कश्मीर मुद्दे पर चीन ने बदला अपना स्टेंड, चीन पर चला मोदी का जादू

प्रधानमंत्री मोदी ने अपनी कूटनीतिक जीतों में एक और जीत शामिल कर ली है। चीन को कश्मीर मुद्दे पर अपने पक्ष में शामिल कर प्रधानमंत्री ने अपना कद देश की नज़रों में और बढ़ा लिया है। आपको बता दें चीन भारत का हर मंच पर विरोध कर रही थी, इसी बीच अचानक से अपने बयान में बदलाव करने वाली बात ने भारतीयों को ही नहीं बल्कि पूरे विश्व को हैरान कर दिया है। इसका पूरा पूरा श्रेय पीएम मोदी की कूटनीतिक नीतियों को जाता है। पीएम मोदी के प्रभाव ने चीन के ड्रेगन को आखिरकार झुकने पर मजबूर कर लिया है। चीन का ये बदलता रुख तब सामने आया है जब चीन के राष्ट्रपति जिनपिंग की भारत यात्रा शुरू होने को है। कल जिनपिंग भारत का दौरा करेंगे। अब देखना यह है कि दोनों देशों के बीच बढ़ते तनाव और बिगड़ रहे संबंधों के चलते कैसे आगे बढ़ा जाता है।

आपको बता दें कि अनुच्‍छेद 370 हट जाने के बाद जो चीन की पहली प्रतिक्रिया सामने आई थी। उस वक्‍त चीन ने कहा था कि कश्‍मीर समस्‍या का  समाधान संयुक्‍त राष्‍ट्र चार्टर और उसके प्रस्‍तावों के तहत होना चाहिए। चीन ने अनुच्‍छेद 370 को निष्‍प्रभावी करने को कहा था। चीन ने कहा था कि भारत जम्‍मू कश्‍मीर की यथास्थिति से कोई छेड़छाड़ नहीं  करे।  पाकिस्‍तान के लिए यह बयान राहत देने वाला था।  लेकिन अब चीन ने अपना बयान बदल दिया है। संयुक्‍त राष्‍ट्र चार्टर की बात करने वाला चीन पहली बार कश्‍मीर मसले को भारत-पाकिस्‍तान का द्विपक्षीय मसला मानते हुए इसे संवाद के जरिए समाधान तलाशने की बात की थी। इस बदले हुए रूख के ऊपर यह भारत की बड़ी कूटनीतिक जीत है।