बलिया के ददरी मेला को मिलेगा राज्य मेला का दर्जा : उपेन्द्र तिवारी

 बलिया।एएनएन (Action News Network)

कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर गंगा किनारे आयोजित कार्तिक महोत्सव 2019 में रातभर भक्ति की सरिता बही। पौराणिक काल से लगते आ रहे ददरी मेले को राज्य मेला का दर्जा दिलाने की बातें हुईं। राज्य सरकार के मंत्री उपेंद्र तिवारी ने कलाकारों को सम्मानित करने के बाद कहा, बलिया के ऐतिहासिक ददरी मेले को राज्य मेला का दर्जा दिलाने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिलेंगे।

इसके लिए जिले के सभी सांसद, विधायक व मंत्री एकसाथ मुख्यमंत्री महाराज योगी जी से मिलेंगे। कार्तिक महोत्सव का आगाज कथावाचक राजन दीक्षित जी महाराज के रामकथा से हुआ। उन्होंने श्रीराम के अनेक प्रसंग सुनाकर हजारों श्रद्धालुओं का मन मोहा। इसके बाद तरुण ग्रुप ने स्वच्छता को लेकर एक झांकी प्रस्तुत की। जिसकी सभी ने सराहना की।  तरुण ग्रुप के कलाकारों ने महिषासुर मर्दिनी नृत्य से जमकर तालियां बटोरी।

गोलू राजा व पारुल नंदा के भजनों ने मध्यरात्रि के गुलाबी ठंड में हजारों श्रद्धालुओं को भक्ति रस में गोते लगवाए। जबकि किन्नर अनुष्का चौबे ने रुद्र तांडव किया तो महादेव की भक्ति में सभी के रोंगटे खड़े हो गए। काशी से आए अमलेश शुक्ल ने बम-बम बोल रहा है काशी….सुनाया तो काफी देर तक लोग तालियां बजाते रहे। मंत्री उपेन्द्र तिवारी ने अमलेश शुक्ल, गोलू राजा, नंदिनी स्वराज, किन्नर अनुष्का चौबे को सम्मानित किया। कार्यक्रम के संयोजक भाजपा के राष्ट्रीय कार्यक्रमों व बैठकें विभाग के प्रदेश सह संयोजक साकेत सिंह ने सभी के प्रति आभार प्रकट किया।