केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक आज, BJP देर रात कर सकती है उम्मीदवारों का एलान

नई दिल्ली : दिल्ली विधानसभा चुनाव-2020 के लिए आम आदमी पार्टी के बाद कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी ने भी उम्मीदवारों की सूची जारी करने की कवायद तेज कर दी है।  सभी 70 सीटों पर उम्मीदवारों का नाम तय करने की कड़ी में भारतीय जनता पार्टी की केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक गुरुवार को होनी है। ऐसे माना जा रहा है कि देर शाम होने वाली भाजपा की इस बैठक में प्रत्याशियों के नाम तय किए जा सकते हैं। 

17 जनवरी से भाजपा प्रत्याशी करेंगे नामांकन

दिल्ली प्रदेश भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी का दावा है कि पार्टी के प्रत्याशियों का एलान होते ही 17 जनवरी से नामांकन शुरू हो जाएगा। माना जा रहा है कि 19-20 जनवरी को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष का चुनाव होना है, ऐस में इससे पहले ही पार्टी प्रत्याशियों के नामों का एलान करने के साथ नामांकन प्रक्रिया भी पूरी कर लेगी।

भाजपा ने उठाए AAP के प्रत्याशियों पर सवाल

वहीं, AAP प्रत्याशियों पर भाजपा नेता सवाल खड़े कर रहे हैं। पूर्व केंद्रीय राज्यमंत्री विजय गोयल का कहना है कि भ्रष्टाचार, सांप्रदायिक तनाव बढ़ाने, हिंसा के लिए उकसाने सहित अन्य अपराध व महिला उत्पीड़न के आरोपों से घिरे लोगों को टिकट देने से AAP का असली चेहरा सामने आ गया है।

प्रदेश कार्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता में उन्होंने कहा कि वर्ष 2013 में आप के मुखिया अरविंद केजरीवाल भ्रष्टाचार, चरित्र, अपराध एवं सांप्रदायिकता से किसी तरह का समझौता नहीं करने की बात करते थे। इसके विपरीत AAP उम्मीदवारों की सूची में उन लोगों के भी नाम हैं, जिन पर गंभीर आरोप लगे हैं। कई के खिलाफ मामले दर्ज हैं।

वहीं, शिरोमणि अकाली दल (शिअद बादल) ने दो सिख विधायकों का टिकट काटे जाने का विरोध किया है। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष हरमीत सिंह कालका ने कहा कि टिकट वितरण आप का आंतरिक मामला है, लेकिन सिखों की जगह गैर सिखों को टिकट देने से AAP का सिख विरोधी चेहरा बाहर आ गया है। AAP सरकार में भी किसी सिख को जगह नहीं मिली थी।