‘डॉक्टर ने कहा था काटनी पड़ सकती है जीभ’ : राकेश रोशन

नई दिल्ली  एएनएन (Action News Network)

प्रोड्यूसर-डायरेक्टर और एक्टर ऋतिक रोशन के पिता राकेश रोशन ने कैंसर से अपनी जंग के बारे में खुलकर बात की। राकेश रोशन ने बताया कि उन्हें भी कैंसर से डर लगा लेकिन उन्होंने इससे हार नहीं मानी और जीत हासिल की। उन्हें ये तक कहा गया था कि उनकी जीभ काटनी पड़ सकती हैं, क्योंकि उन्हें जीभ में कैंसर था। अब उन्होंने कैंसर से लड़ाई के अपने पूरे सफर के बारे में बताया।

राकेश रोशन बताते हैं कि मुझे याद है वो 15 दिसंबर 2018 का दिन था। मुझे फोन आया, जिसमें कहा गया कि मेरी बायोप्सी रिपोर्ट पॉजीटिव है।’ इसके बाद जब डॉक्टर ने उन्हें कहा कि उनकी जीभ में कट लगाना पड़ेगा तो वे डर गए थे। बकौल राकेश, कैंसर के लिए जीभ सबसे खराब जगह है। ऐसी स्थिति में आप पानी, कॉफी, चाय भी नहीं पी सकते। यहां तक कि आपकी टेस्टिंग बड्स भी बदल जाती हैं और चीजों में वह स्वाद नहीं आता, जो आना चाहिए। मैं दो-तीन महीने तक इस परेशानी से गुजरा। राकेश रोशन के मुताबिक, जीभ का कैंसर सबसे बुरा होता है। आपके मुंह का स्वाद चला जाता है। मैं ठीक से पानी, चाय और कॉफी तक भी नहीं पी पा रहा था। मेरा 10 किलो वजन घट गया। हालांकि, मैं अब काफी अच्छा महसूस कर रहा हूं। मैं रोजाना डेढ़ घंटे जिम करता हूं। मेरा तीन किलो वजन भी बढ़ गया है।

राकेश आगे कहते हैं, “फिर मैंने इस तरह के ट्रीटमेंट के लिए सबसे अच्छे डॉक्टर की पड़ताल की तो स्लोन केटरिंग कैंसर ट्रीटमेंट, यूएस में हेड एंड नैक सर्विस के चीफ डॉ. जतिन शाह के बारे में पता चला। ऋतिक ने उन्हें फोन किया। खुशकिस्मती से उन्होंने अनजान नंबर होते हुए भी फोन उठा लिया और हमसे पीईटी (पॉज़िट्रॉन एमिशन टोमोग्राफी) स्कैन मंगाया।

राकेश बताते हैं कि परिवार को काफी परेशानी हुई लेकिन कोई भी इससे घबराया नहीं। राकेश के मुताबिक, जैसा की मैंने कहा, ये चीजें मेरे लिए नई नहीं थीं। हमने इसका पता किया और इसे ठीक करने की कोशिश में जुट गए। कभी डिप्रेशन में नहीं गया। जिंदगी जिया। कैंसर सिर्फ एक बड़ा नाम है।

राकेश रोशन का कहना है कि पूरी तरह ठीक होने के बाद वे ‘कृष 4’ से डायरेक्टर के तौर पर वापसी करेंगे। उनके मुताबिक, उन्होंने पहले ही इस पर काम शुरू कर दिया था। लेकिन वे स्क्रिप्ट को फिर से देखेंगे और इसमें कुछ बदलाव कर फिल्म की शूटिंग शुरू करेंगे।