पेपरलेस होंगे हेल्थ एंड वेलनेस सेंट, एएनएम व बीएमएनई को दी गयी ट्रेनिंग

एक दिवसीय प्रशिक्षण में एएनएम का टैब चलाने व फॉर्मेट भरने की दी जानकारी

छपरा। एएनएन (Action News Network)

जिला स्वास्थ्य समिति के सभागार में एक दिवसीय प्रशिक्षण शिविर का आयोजन सोमवार को किया गया। जिसका शुभारंभ सिविल सर्जन डॉ. माधवेश्वर झा ने किया।

प्रशिक्षण शिविर में हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में कार्यरत एएनएम और बीएमएनई को ट्रेनिंग दी गयी। अब एएनएम को भी तकनीक से लैस किया गया है। प्रशिक्षण में टाटा ट्रस्ट के मास्टर ट्रेनर नेे टैब चलाने, एप व फॉर्मेट भरने के बारे में जानकारी दी गयी। एएनएम को एनसीडी एप के बारे में विस्तार से बताया गया। प्रशिक्षण के दौरान बताया गया कि अगर परिवार में किसी को उच्च रक्तचाप, मधुमेह, यक्ष्मा (टीबी) या कैंसर हुआ है, तो उस घर के युवकों के स्वास्थ्य की जांच की जायेगी। प्रशिक्षित आशा को एक सी-बैक फॉर्मेट दिया जायेगा, जिसे वे भरेंगी।

सिविल सर्जन ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग की विभिन्न योजनाओं को जमीनी स्तर तक पहुंचाने का काम करने वाली एएनएम को हाईटेक किया गया है। इसके लिए जिले में चल रहे सभी हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में कार्यरत एएनएम को टैब दिया गया है। जिले में 15 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर चल रहे है। इस टेबलेट में एनसीडी सॉफ्टवेयर के माध्यम से कार्य किया जाना है।

इस मौके पर एनसीडीओ डॉ. अमरेंद्र कुमार सिन्हा, जिला स्वास्थ्य समिति के एमएनई भानू शर्मा, टाटा ट्रस्ट के मास्टर ट्रेनर व सभी एएनएम व बीएमएनई शामिल थे।

15 स्थानों पर चल रहे हैंं हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर

एमएनई भानू शर्मा ने बताया कि जिले के 15 स्थानों पर जन आरोग्य प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना के तहत हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर खोला गया है, जहां मरीजों को जांच तथा इलाज की सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही है, जिसमें मुख्य रूप से नयागांव, गोराईपुर, गोल्डिंगंज, बड़ा तेलपा, मासूमगंज, मोहब्बत नाथ के मठिया, मोहम्मदपुर, दाउदपुर, हंसराजपुर, दरीहारा, भेल्दी, कोरैया बसंत, छपिया, खुदाई बाग, नौडीहा आदि शामिल है।