तेज रफ्तार बाइक की चपेट में आकर मासूम की मौत

नई दिल्ली। एएनएन (Action News Network)

रोहिणी जिले के बुध विहार इलाके में एक तेज रफ्तार बाइक की चपेट में आने से पांच साल के लड़के की मौत हो गई। हादसे के समय मासूम बच्चा अपनी दो बहनों के साथ मार्केट से मोमोज खरीदने गया था। मृतक बच्चे की पहचान पांच वर्षीय मानव के रूप में हुई है, वह मां-बाप का इकलौता बेटा था। हादसे की वजह से परिवार के लोगों का रो रोकर बुरा हाल है। बुध विहार पुलिस ने आरोपित बाइक सवार को गिरफ्तार कर लिया।

बच्चे का शव पोस्टमार्टम कराने के बाद परिजनों को सौंप दिया।पुलिस के अनुसार मूलत: दरभंगा बिहार निवासी सुरेन्द्र पासवान परिवार के साथ रिठाला गांव में रहते हैं। रिक्शा चलाकर परिवार की गुजर बसर करते हैं। परिवार में पत्नी, चार बेटियां व इकलौता बेटा था। देर रात को 8 बजे इनका बेटा 5 वर्षीय मानव, 11 साल की बेटी कंचन व 7 साल की बेटी पूजा घर में मोमोज खाने के लिए पैसे लेकर गए थे। करीब 10 मिनट बाद बेटी पूजा घर पर भागती हुई आई और बताया कि भाई मानव का बाइक से एक्सीडेंट हो गया है।

सुरेंद्र पासवान तुरंत अपनी बेटी पूजा के साथ रिठाला मेन रोड, बस स्टैण्ड 990 के पास पहुंचे। वहां पहले से काफी लोगों की भीड़ जमा थी। गौर से देखा तो बेटा मानव खून से लथपथ मिला। बेटी कंचन ने पिता को बताया कि हम तीनों बहन भाई मोमोज खाने जा रहे थे, तभी समय करीब 8.05 बजे रात तेज रफ्तार में बाइक आई और लापरवाही से चलाते हुए भाई उसके चालक ने मानव को जोरदार टक्कर मार दी। चश्मदीदों की मानें तो हादसा इतना जबर्दस्त था कि टक्कर के बाद मानव 10 फीट हवा में उछलते हुए दूर जाकर गिरा।लोगों ने तुरंत ही बाइक सवार को भागने से पहले मौके पर ही पकड़ लिया।

इस बीच पिता अपने बेटे मानव को जख्मी हालत मे अंबेडकर अस्पताल रोहिणी लेकर पहुंचे। जहां पर डाक्टर ने क्रिटिकल कंडीशन देख बड़े अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। बच्चे का पिता बिलखता हुआ अपने मासूम को सरोज अस्पताल रोहिणी लेकर आ गया। जहां पर डाक्टर ने बेटे को मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया। इकलौते बेटे की मौत से परिवार सदमे में है। सबका रो रोकर बुरा हाल है। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।