जम्मू कश्मीर के कुलगाम में पांच गैर कश्मीरी मजदूरों की हत्या, ममता बनर्जी ने जताया दुख

नई दिल्ली/श्रीनगर।

जम्मू कश्मीर में यूरोपीय यूनियन के 27 सांसदों के प्रतिनिधिमंडल के दौरे के बीच एक बार गैर कश्मीर मजदूरों की आतंकियों ने हत्या कर दी है। जम्मू कश्मीर पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार आंतकी हमले में एक अन्य मजदूर गंभीर रूप से घायल हुआ है।

आतंकियों ने मंगलवार को कुलगाम जिले में देर रात पांच मजदूरों की गोली मार कर हत्या कर दी थी। मारे गए सभी मजदूर पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद जिले के रहने वाले थे। इन सभी मजदूरों के नाम शेख कमरूद्दीन, शेख एमडी रफीक, शेख मर्सुलिन, शेख निजामुद्दीन और मोहम्मद रफीक है।

सुरक्षा बलों ने इलाके के घेरा

सुरक्षा बलों ने हादसे के बाद पूरे इलाके की घेराबंदी कर दी है। पूरे इलाके को घेरा गया है। आतंकवादियों की तलाश में सर्च ऑपरेशन भी चलाए जा रहे हैं। इसके अलावा सुरक्षा बलों की भी तैनाती की गई है।

ये हैं निशाने पर

इलाके में ट्रक ड्राइवर, कारोबारी और मजदूर आतंकियों के निशाने पर हैं। इससे पहले भी आतंकियों ने एक गैर कश्मीरी मजदूर की हत्या कर दी थी।

उल्लेखनीय है कि गत15 दिनों में चार ट्रक ड्राइवर, एक कारोबारी और दूसरे राज्यों से आए मजदूरों की हत्या की अबतक आतंकवादियों द्वारा जम्मू कश्मीर में की जा चुकी है। इस घटना से एक दिन पहले भी आतंकियों ने अनंतनाग में एक ट्रक ड्राइवर की हत्या कर दी थी।

इस हादसे के बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मजदूरों की हत्या पर दुख जताया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि कश्मीर में हत्या से हम स्तब्ध और दुखी हैं। मुर्शीदाबाद के पांच मजदूरों की जान चली गई है। हमारे शब्द मृतकों के परिवारों के दुख को दूर नहीं करेंगे। हम इस दुख की इस घड़ी में परिवार के साथ हैं। परिवार वालों की हर संभव मदद की जाएगी।