गुलाबी नगरी के 108 स्कूलों के विद्यार्थियों ने ली पर्यावरण सरंक्षण की शपथ

फतेहाबाद। एएनएन (Action News Network)

प्रदेश में पराली के प्रदूषण के प्रति विद्यार्थियों को जागरूक करने के मकसद से राह ग्रुप फाउंडेशन की ओर से बुधवार को फतेहाबाद जिले के 108 स्कूलों में पर्यावरण संरक्षण की शपथ दिलवाई गई। जागरुकता की इस कड़ी में जिले के अधिकांश प्राइवेट व सरकारी स्कूलों मेंं रैली, पेन्टिंग, स्पीच कम्पटीशन व नुक्कड़ नाटकों के माध्यम से भी पराली प्रदूषण से बचने व बचाने का संदेश दिया गया।

राह संस्था की तरफ से विद्यार्थियों के माध्यम से प्रदेश के आमजन से लेकर किसानों को पराली जलाने के दुष्प्रभाव के बारे में जागरूक किया गया। कार्यक्रम का आगाज राह ग्रुप की ब्रांड एम्बेसडर पर्वतारोही मनीषा पायल व राष्ट्रीय सलाहकार विकास गोदारा ने विद्यार्थियों को शपथ दिलवा कर किया। फाउंडेशन के राष्ट्रीय चेयरमैन नरेश सेलपाड़, वाइस चेयरमैन रामनिवास वर्मा व इवेंट कॉर्डिनेटर नवल सिंह ने बताया कि इस प्रदेश व्यापी जागरुकता अभियान के दौरान विद्यार्थियों ने प्रण लिया कि वो अपने जीवन में कभी भी पराली नहीं जलाएंगे।

वो यह समझते हैं कि पराली जलाने के कारण पर्यावरण प्रदूषण, बंजर होती ऊपजाऊ जमीन व दूसरे प्रकार की गंभीर समस्याएं तेजी से बढ़ी हैं। इस दौरान विद्यार्थियों ने अपने गांव, अपने शहर और देश-प्रदेश को पराली प्रदूषण के खतरे से हर हाल में बचाने का भी संकल्प लिया। इस दौरान विद्यार्थियों ने शपथ ली कि वो पराली जलाने की बजाय इसके दूसरे विकल्पों को बढ़ावा देने का भी प्रयास करेंगे, जिससे कि जमीन को दोबारा से ऊपजाऊ बनाने, पर्यावरण प्रदूषण पर रोक लगाने के साथ-साथ जीव सरंक्षण को बढ़ावा मिल सके। विद्यार्थियों ने प्रण लिया कि वो सब मिलकर अपने परिजनोंए मित्रों व किसानों को भी पराली न जलाने के लिए जागरूक करेंगे।
जागरुकता रैली रही आकर्षण का केन्द्र
राह ग्रुप फाउंडेशन के पराली प्रदूषण के प्रति जागरुकता अभियान के दौरान विभिन्न स्कूलों के विद्यार्थियों की ओर से निकाली गई जागरुकता रैली/प्रभात रैली ने लोगों को विशेष आकृषित किया। विद्यार्थियों ने चलो-चले हाथ मिलाएं, पराली प्रदूषण को जड़ से मिटायें, धरती पर रहेगी खुशहाली, मत जलाओ पराली, सबको ये समझाएंगेए पराली नहीं जलाएंगे, पराली नहीं जलाएंगे, धरती को स्वर्ग बनाएंगे जैसे नारे लगा कर पराली न जलाने का संदेश दिया।

इस दौरान विद्यार्थियों ने अलग-अलग नारों की तख्तियों के साथ गांवों व कस्बों मेंं पहुंचकर लोगों को जागरुक किया। इस दौरान विभिन्न स्कूलों में जागरुकता रैली/प्रभात रैली निकालने के साथ=साथ नाटकों व दूसरे माध्यमों से भी पराली न जलाने का संदेश दिया।
कहां-कहां दिलाई जागरुकता की शपथ
प्रदेश व्यापी जागरुकता अभियान के दौरान फतेहाबाद के सीनियर मॉडल स्कूल, डीएवी स्कूल, महाराजा अग्रेसन स्कूल, जी लिट्रा स्कूल, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय के अलावा राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय भट्टू, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यायल बनावाली, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय ढांड, सेंट मैरी स्कूल टोहाना, केएम मॉडल स्कूल टोहाना, सरस्वति के एम मॉडल टोहाना, एसडी स्कूल डांगरा, एसएस स्कूल टोहाना, ग्रीन वैली स्कूल टोहाना, बजरंग स्कूल टोहाना, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय टोहाना, डीएन सीनियर सकेंडरी स्कूल समैन, सिटी सीनियर सकेंडरी स्कूल भिरड़ाना, डीएवी स्कूल जाखल, आदर्श भारती इंटरनेशनल स्कूल भूना, न्यू सनराईज सीनियर सेकेंडरी स्कूल भूना, कोहिनूर इंटरनेशनल स्कूल धारसूल, गिलीमुंडी मैमोरियल स्कूल लहरिया, श्री गुरु गोबिन्द सिंह कॉन्वेट स्कूल चिम्मो, रतिया के केके कॉन्वेट स्कूल, मदर इंडिया स्कूल, पीएल जिन्दल स्कूल, जीडी ज्योति स्कूल, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय,  होली विज्डम स्कूल, जीएनआई इंटरनेशनल स्कूल, ज्योति स्कूल लाहली, एलपाईन टॉप स्कूल, बीडी मैमोरियल स्कूल, ग्रीन वैली स्कूल, लार्ड शिवा स्कूल, भारती निकेतन, स्वामी दयानंद स्कूल, हैप्पी मॉडल स्कूल सहित जिले के अधिकांश सरकारी स्कूलों में पराली न जलाने के लिए किसानों को प्रेरित करने के लिए जागरूकता कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।