ट्रिपल मर्डर से थर्राया पहाड़, पहले की हत्या और फिर काटे शरीर के ये अंग

उत्तराखंड, ब्यूरो | दीपावली के दिन देवभूमि में ट्रिपल मर्डर की खबर से सनसनी फैल गई सीमांत जिले पिथौरागढ़ के मड़ खड़ायात गांव में उस वक्त दहशत फैल गई जब एक घर के भीतर तीन युवकों की खून से सनी लाशें बरामद हुई। ट्रिपल मर्डर की खबर पूरे जिले और प्रदेश में आग की तरह फैल गई। पिथौरागढ़ पुलिस का पूरा आमला घटनास्थल पर पहुंचकर जांच में जुट गया है। फॉरेंसिक एक्सपर्ट डॉग स्क्वायड सहित लोकल इंटेलिजेंस यूनिट को भी सक्रिय किया गया है। घटना के खुलासे के लिए कई टीमें बनाई गई है।

ट्रिपल मर्डर का ऐसे चला पता-

दरअसल पिथौरागढ़ से 5 किलोमीटर दूर मड़धूरा गांव में शनिवार शाम को एक महिला घास काटने जा रही थी। इस दौरान उसने दरांती में धार लगाने के लिए गांव के एक घर के बाहर पत्थर से दरांती में धार लगाते समय, घर के सदस्यों को आवाज लगाई जब कोई नहीं बोला, तो महिला दरवाजे पर गई, दरवाजा हल्का खुला हुआ था, महिला के आवाज लगाकर दरवाजा खोलते ही जब पहली नजर घर के अंदर गई तो महिला के होश उड़ गए, महिला ने देखा कि खून से लथपथ एक लाश दरवाजे के पास पड़ी है। महिला चीखते चिल्लाते वहां से भागी जिसके बाद गांव के और लोग भी आए जब घर में देखा तो तीन लाशें देख पूरा गांव दहशत में आ गया जिसके बाद पुलिस को खबर दी गई।

न सिर्फ निर्मम हत्या की, बल्कि प्राइवेट पार्ट भी काट डाले-

तीन युवकों की निर्मम हत्या की खबर धीरे-धीरे पूरे जिले में और प्रदेश में पहुंच गई तब तक मौके पर पिथौरागढ़ पुलिस प्रशासन की पूरी टीम पहुंच गई थी, प्रथम दृष्टया तीनों शवों को देख स्पष्ट लग रहा था कि उनकी निर्मम धारदार हथियार से हत्या की गई है और एक युवक का चेहरा भी बुरी तरह क्षत-विक्षत कर दिया गया है यही नहीं तीनों युवकों की निर्मम हत्या के साथ-साथ उनके शरीर के प्राइवेट पार्ट में काट डाले गए थे। इस भयावह मंजर को देख हर कोई हैरान था  उधर  पुलिस ने तफ्तीश शुरू कर दी गई, प्रथम दृष्टया पुलिस ने तीनों युवकों की शिनाख्त के प्रयास किए तो यह पता चला कि इस मकान में दो मजदूर किराए पर रहते हैं जो आसपास मजदूरी का काम करते हैं लेकिन तीसरा शख्स कौन है इस बात का भी पता नहीं चल पाया।

काफी मशक्कत के बाद 3 में से 2 लोगों की हो पाई शिनाख्त-

पुलिस द्वारा प्रारंभिक जांच शुरू करने पर इस बात का पता चला है कि मृतक युवक नेपाली मजदूर हैं जिनमें से काशी बोरा नाम का नेपाली मजदूर इस मकान में किराए में रहता था और दूसरा उनका साथ ही बताया जा रहा है। लेकिन तीसरे युवक की अभी तक शिनाख्त नहीं हो पाई है आसपास के लोगों से यह भी पता चला है कि कुछ दिन पहले यहां एक नेपाली महिला और दो नए नेपाली युवक रहने आए थे इनमें से एक की लाश भी बरामद हुई है जबकि एक नेपाली महिला और युवक फिलहाल गायब हैं पुलिस इन सभी पहलुओं पर जांच में जुटी है।  पुलिस अधीक्षक आरसी राजगुरु ने मौका मुआयना कर बताया कि जल्द ही इस ट्रिपल मर्डर कांड का खुलासा कर लिया जाएगा। पहाड़ की शांत वादियों और शांत वातावरण में दीपावली के दिन ट्रिपल मर्डर से लोग दहशत में आ गए, शांत वादियों में इस तरह की जघन्य वारदातों से लोगों में एक खौफ सा आ गया।