रिश्वतखोर बाबू का वीडियो वायरल होने के बाद निलम्बित

इटावा। एएनएन (Action News Network)

जनपद के मुख्यालय स्थिति अभिलेखागार विभाग में बाबू पद पर तैनात मनोज श्रीवास्तव का एक वीडियो रिश्वत लेते हुए सो​शल मीडिया पर जारी हुआ है। इसके वायरल होने के बाद जिला प्रशासन में हड़कम्प मच गया।

मामला संज्ञान में आते ही जिलाधिकारी के आदेश पर उपजिलाधिकारी ने दोषी बाबू को निलंबित करते हुए उसके खिलाफ तीन सदस्यीय जांच कमेटी बनाकर जांच के आदेश दे दिए हैं। इस कार्यवाही के बाद से कलेक्ट्रेट में तैनात बाबुओं में दहशत का माहौल है। जिलाधिकारी ने सभी बाबुओं को ईमानदारी से काम करने के निर्देश दिए हैं।

उपजिलाधिकारी जितेंद्र कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि कलेक्ट्रेट के अभिलेखागार विभाग के रिकॉर्ड रूम में बाबू के पद पर तैनात मनोज श्रीवास्तव की रिश्वत लेते हुए वीडियो सामने आने के बाद जिलाधिकारी जेबी सिंह के आदेश पर बाबू को निलंबित कर दिया गया है और तीन सदस्यीय जांच कमेटी गठित कर प्रकरण की जांच करवाई जा रही है। दोषी बाबू नकल निकलवाने के एवज में रिश्वत लेता हुआ दिखाई दे रहा है।