Top
Action India

दुर्गा प्रतिमा विसर्जन आरंभ

दुर्गा प्रतिमा विसर्जन आरंभ
X
  • मुख्यमंत्री ने मां कामाख्या का लिया आशीर्वाद

  • मां के जयकारे के साथ आरंभ प्रतिमा विसर्जन कार्य मंगलवार को भी रहेगा जारी

गुवाहाटी । एक्शन इंडिया न्यूज़

दसमी के अवसर पर पूरे विधि विधान के साथ मां दुर्गा की पूजा अर्चना के बाद सोमवार की दोपहर से ही राजधानी गुवाहाटी समेत राज्य के सभी जिलों में दुर्गा प्रतिमाओं का विसर्जन शुरु हो गया।

सरकारी नियम तथा कोविड-19 प्रोटोकॉल के अनुसार प्रतिमाओं का विसर्जन देर शाम तक चलता रहा। गुवाहाटी के विभिन्न घाटों जैसे पांडु घाट, लाचित घाट, काछोमारी घाटों पर प्रशासन के द्वारा देवी प्रतिमाओं को विसर्जित करने का आयोजन किया गया था। देर शाम तक सभी चिह्नित घाटों पर प्रतिमाओं के विसर्जन का कार्यक्रम चलता रहा।

गुवाहाटी के पांडु घाट पर देर शाम तक करीब 60 प्रतिमाओं का विसर्जन किया गया। मां के जयकारे के साथ दुर्गा प्रतिमाओं का विसर्जन किया गया। कोरोना के कारण इस बार श्रद्धालुओं ने छोटे आकार की प्रतिमाएं ही पंडालों में स्थापित किया था। प्रतिमा विसर्जन के दौरान शारीरिक दूरी का पालन, मास्क का उपयोग करते दिखे। सादगी के साथ पंडाल से विसर्जन जुलूस निकाला गया और ब्रह्मपुत्र के तट पर मूर्तियों का विसर्जन किया गया।

दशमी के दिन नीलाचल पहाड़ स्थित विख्यात शक्तिपीठ कामाख्या धाम में मां का आशीर्वाद लेने के लिए मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल पहुंचे थे। उन्होंने मां से पूरे राज्यवासियों के लिए आशीर्वाद की कामना की। उनके साथ मुख्यमंत्री के कानूनी सलाहकार शांतनु भराली भी उपास्थित थे।

पांडु घट विसर्जन समिति ने सुचारु रुप से प्रतिमा विसर्जित करने के लिए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये थे। राज्य के सभी घाटों पर सुरक्षा व्यवस्था के बेहद पुख्ता इंतजाम किये गये थे। वहीं घाट पर प्रतिमा विसर्जन के समय एसडीआरएफ, एनडीआरएफ, पुलिस, सीआरपीएफ, नागरिक कमेटी के सदस्यों के अलावा जल संसाधन विभाग, गुवाहाटी नगर निगम के कर्मी भी सभी घाटों पर उपस्थित थे।

गुवाहाटी के अलावा राज्य के नगांव जिला के कलंग नदी के बाली घाट, डिप्लू घाट, रोहा चंकी घाट, तेजपुर के ब्रह्मपुत्र जहाज घाट, जोरहाट के निमाती घाट के साथ पगलादिया, आई नदी, बेकी नदी, कालादिया नदियों के घाटों पर भी देवी प्रतिमाओं का विसर्जन कार्य बेहद सुचारू रूप से देर शाम तक चलता रहा।

प्रतिमाओं के विसर्जन को लेकर श्रद्धालु बेहद उत्साहित दिखे। इस बार घाटों पर पहले की तरह लोगों की भीड़ दिखाई नहीं दी। क्योंकि, गुवाहाटी के विभिन्न पूजा कमेटियों ने प्रतिमाओं के बदले घट पूजन किया था। अनेक घाटों पर मंगलवार को भी देवी प्रतिमाओं के विसर्जन का कार्य जारी रहेगा।

Next Story
Share it