Top
Action India

जुगदल हत्याकांड की सीबीआई से जांच की आसू ने उठायी मांग

जुगदल हत्याकांड की सीबीआई से जांच की आसू ने उठायी मांग
X

गुवाहाटी । एक्शन इंडिया न्यूज़

जुगदल हत्याकांड के 11 साल बीत जाने के बाद भी हत्यारा को पकड़ने में सीआईडी की टीम सफल नहीं हो पाई है। 12 दिसम्बर, 2009 को सोनापुर थानांतर्गत जुगदल में हरकांत दोलोई, उनकी पत्नी सविता दोलोई, दो बेटी, एक बेटा व एक भतीजा की बड़ी बेरहमी से हत्या कर दी गई थी। वहीं अतुल दोलोई और टूकूल दोलोई का सिर धड़ असे लग कर दिया गया था।

दोनों बच्चों का कटा हुआ सिर डॉ धनीराम बरुवा के कैंपस में मिलने के बाद डॉ धनीराम बरुवा हार्ट एंड रिसर्च सेंटर के मालिक पर हत्या का आरोप लगा था। जिसके बाद लोगों ने धनीराम बरुवा के अस्पताल को काफी नुकसान पहुंचाया। हत्याकांड की जांच की मांग के लिए लगातार विरोध प्रदर्शन को देखते हुए हत्याकांड के दूसरे दिन ही पूरे जांच का जिम्मा सीआईडी को सौंप दिया गया। सीआईडी लगातार जांच कर रही है। लेकिन, अब तक इस मामले में एक भी हत्यारे को गिरफ्तार नहीं किया जा सका है।

जुगल हत्याकांड में शामिल सभी आरोपितों को पकड़कर कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग और जांच सीआईडी के बदले सीबीआई से कराए जाने को लेकर आंचलिक डिमोरिया छात्र संघ ने सोनापुर एसीपी अबू तानी दोलोई के जरिए मुख्यमंत्री को एक पत्र प्रेरित किया।

हत्या की बली चढ़े एक ही परिवार के 6 लोगों की तस्वीर पर माल्यार्पण कर शनिवार की शाम को आंचलिक डिमोरिया छात्र संघ द्वारा सोनापुर में श्रद्धांजलि दी गई। इस दौरान ऑल असम छात्र संघ की केंद्रीय कार्यकारिणी के सदस्य दिव्य ज्योति मेधी, आंचलिक डिमोरिया छात्र संघ की अध्यक्ष वर्षा मेधी और सचिव पराग बरुवा आदि मौजूद रहे।

Next Story
Share it