Top
Action India

बिश्वनाथ घाट से गोहपुर को काजीरंगा में शामिल किए जाने का मछुआरों ने किया विरोध

बिश्वनाथ घाट से गोहपुर को काजीरंगा में शामिल किए जाने का मछुआरों ने किया विरोध
X

बिश्वनाथ । एक्शन इंडिया न्यूज़

बिश्वनाथ जिला के बिश्वनाथ घाट इलाके में बरसों से मछली पकड़कर अपनी जीविका चलाने वाले मछुआरों को इन दिनों काफी मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है। बिश्वनाथ घाट से गोहपुर के इलाके को काजीरंगा में छठे संयोजन के तहत जोड़े जाने का मछुआरा समाज विरोध कर रहा है। अनुसूचित जाति के मछुआरे मछली पकड़ कर अपनी जीविका चलाने वाले गुप्त काशी बिश्वनाथ घाट के मछुआरों को काफी मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है।

इस कड़ी में मंगलवार को ऑल असम अनुसूचित जाति युव छात्र संस्था की केंद्रीय समिति के निर्देश के तहत बिश्वनाथ के ब्रह्मपुत्र आंचलिक मत्स्य जीवी समिति के साथ मिलकर गुप्त काशी बिश्वनाथ घाट पर अनुसूचित जाति के लोगों ने राज्य सरकार से इलाके को काजीरंगा से बाहर करने की मांग की।

इस कार्यक्रम में बिश्वनाथ ब्रह्मपुत्र आंचलिक मत्स्य जीवी समिति के अध्यक्ष गदापानी दास, सचिव बिश्वजीत दास, सदौ असम अनुसूचित जाति युव छात्र संस्था के बिश्वनाथ जिला समिति के अध्यक्ष सिंहजीत हजारिका के साथ ही अन्य स्थानीय लोग मौजूद थे।

मछुआरों ने कहा कि अगर हमारी समस्याओं का समाधान राज्य सरकार या केंद्र सरकार द्वारा जल्द से जल्द नहीं किया जाता है तो हम 2021 के विधानसभा का पूरी तरह से बहिष्कार करेंगे।

Next Story
Share it