Top
Action India

गोधन न्याय योजना अंतर्गत रायगढ़ में बना 200 किलोग्राम वर्मी खाद

गोधन न्याय योजना अंतर्गत रायगढ़ में बना 200 किलोग्राम वर्मी खाद
X

रायगढ़| एक्शन इंडिया न्यूज़

जिला कलेक्टर भीम सिंह के निर्देशन में नगर निगम आयुक्त आशुतोष पांडे ने वर्मी कंपोस्ट के लिए बीते दिनों एस एल आर एम सेंटर में बनाए गए टंकियों में अफ्रीकन केचुआ डालकर खाद बनाने की प्रक्रिया का शुभारंभ किया था, जिसके अंतर्गत 200 किलोग्राम वर्मी खाद का निर्माण किया गया। जिसमें आज पहले हितग्राही हरिशंकर पटेल को 50 किलोग्राम का विक्रय भी किया गया।

ज्ञात हो कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के महत्वाकांक्षी योजना नरवा गरवा घुरवा बारी अंतर्गत गोधन न्याय योजना में पूरे राज्य में गोठान बनाए जा रहे हैं जहां गोबर खरीदी कर एकत्रित किया जा रहा है। साथ ही स्वच्छ भारत मिशन क्लीन सिटी के तहत शहरों में डोर टू डोर कचरा कलेक्शन कर एसएलआरएम सेंटर में गीला एवं सूखा कचरा अलग अलग कर एकत्रित किया जा रहा है।वर्मी कंपोस्ट खाद बनाने वाले विशेषज्ञों द्वारा बताए हुए विधियों अनुसार गोबर एवं गीला कचरा मिलाकर खाद बनाने की प्रक्रिया भी की जा रही है ।

नगर पालिक निगम आयुक्त आशुतोष पांडे ने बीते दिनों एसएलआरएम सेंटर में 5 टंकियों में निर्मित गोबर खाद में अफ्रीकन केचुओं को अपने हाथ से डालकर वर्मी कंपोस्ट खाद बनाने की प्रक्रिया का शुभारंभ किया था, जो 45 दिनों में तैयार हुआ।जिसे सीधे किसान या सेवा सहकारी समिति को ₹8 किलो में बेचा जाएगा। गोबर खाद से हुए आय को सेंटर के स्वच्छता दीदी जो वहां खाद बनाने हेतु कार्यरत हैं ।उन्हें ही मानदेय के रूप में दिया जाएगा।निगम आयुक्त आशुतोष पांडेय ने बताया कि आज नगर निगम रायगढ़ द्वारा स्वच्छता दीदियों के माध्य्म से ग़ोबर में केचुआ डाल कर 200 किलोग्राम वर्मी खाद का भी निर्माण किया गया था, जिसमें आज 50 किलोग्राम का विक्रय किया गया।

पहले हितग्राही हरिशंकर पटेल को खाद बेचा गया। जिस से नगर निगम रायगढ़ की स्वच्छता दीदियों को 400 रुपये का आय प्राप्त हुआ। नगर निगम रायगढ़ वर्मी खाद बिक्री में छत्तीसगढ़ में तीसरा निकाय है जहां खाद का बिक्री किया है।।

Next Story
Share it