Top
Action India

थोक मंडी में सब्जी का उठाव नहीं, सब्जी खिला रहे मवेशियों को

थोक मंडी में सब्जी का उठाव नहीं, सब्जी खिला रहे मवेशियों को
X
  • पानी के भाव बिक रही सब्जियां

धमतरी । एक्शन इंडिया न्यूज़

दीवाली त्यौहार मनाने के बाद से थोक सब्जी मंडी में सब्जी का उठाव कम हो गया है। अधिकांश सब्जियां पानी के भाव बिक रही है। वहीं आवक अधिक होने और उठाव नहीं होने से सब्जियों को थोक व्यापारी मवेशियों को खिला रहे हैं और फेंक भी रहे हैं।

दीवाली त्यौहार के बाद से थोक सब्जी मंडी में सब्जियों का उठाव कम हो गया है। चिल्लर सब्जी व्यवसायी खरीदी करने नहीं पहुंच रहे हैं। ग्रामीण अंचल के चिल्लर व्यवसायी इन दिनों धान कटाई मिंजाई में व्यस्त है। कुछ लोग मड़ई घूम रहे हैं, ऐसे में थोक सब्जी मंडी श्यामतराई में सब्जियों की भारी आवक का उठाव नहीं हो पा रहा है। फुटकर व्यवसायी सब्जी खरीदने नहीं पहुंच पा रहे हैं। इससे उठाव नहीं है। थोक सब्जी व्यवसायी रामू वाधवानी, विजय वाधवानी और बंटी वाधवानी ने बताया कि सब्जियों के दाम पानी के भाव बिक रही है।

वहीं चिल्लर व्यवसायी पर्याप्त संख्या में दीवाली के बाद से खरीदी करने नहीं पहुंच रहे हैं, ऐसे में थोक सब्जी मार्केट में उठाव पर्याप्त नहीं है। सब्जियों को खरीदने वाले नहीं होने के कारण कई सब्जी व्यवसायी सब्जियों को मवेशियों को खिला रहे हैं या कूड़े में फेंक रहे हैं। इतना ही नहीं बड़ी संख्या में लौकी और खीरा को गायों को खिलाने के लिए डेढ़ से दो रुपए किलो में बेच रहे हैं। लोग खरीदकर गौशाला ले जा रहे हैं। वहीं पत्ताभाजी को 10 रुपये बोरी में नहीं खरीद रहे हैं, इसलिए उसे खुले में फेंक रहे हैं।

Next Story
Share it