Top
Action India

महिला आयोग की पहल पर संदिग्धों के नार्को परीक्षण की मिली अनुमति

महिला आयोग की पहल पर संदिग्धों के नार्को परीक्षण की मिली अनुमति
X

जगदलपुर । एक्शन इंडिया न्यूज़

विगत एक वर्ष से अपने इकलौते पुत्र के तलाश में भटक रही महिला को अंतत: महिला आयोग की सुनवाई में उपस्थित होने से राहत मिली है। इस प्रकरण में आवेदिका जगदम्बा सेना पति स्व. भुवनेश्वर सेना झोपड़ीपारा, संजय गांधी वार्ड-34, रेल्वे कॉलोनी जगदलपुर, जिला-बस्तर के पुत्र शेखर सेना के लापता होने के संबंध में आवेदिका द्वारा बोधघाट थाना में गुमशुदगी का रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी, किन्तु अभी तक आवेदिका के पुत्र शेखर सेना का पता थाना बोधघाट पुलिस द्वारा नहीं लगाया जा सका है। आवेदिका ने शंका जाहिर की है, कि उनके पुत्र शेखर सेना की हत्या कर, कहीं फेंक या गाड़ दिया गया है।

आवेदिका ने आपने आवेदन में 05 संदिग्धों पर शक जाहिर किया। ये सभी संदिग्ध संजय गांधी वार्ड -34, रेल्वे कॉलोनी जगदलपुर, जिला-बस्तर के निवासी हैं। आवेदिका ने इन सभी पर हत्या करने का शक जाहिर की है। उल्लेखनीय है कि यह घटना 09 जुलाई 2019 की रात की है।

इस पूरे प्रकरण में त्वरित कार्यवाही के लिए पुलिस अधीक्षक जगदलपुर, पुलिस महानिरीक्षक बस्तर संभाग एवं जिला सत्र न्यायाधीश बस्तर तीनों से महिला आयोग की अध्यक्ष ने चर्चा कर इस प्रकरण में नार्को टेस्ट की अनुमति शीघ्र दिये जाने का निवेदन किया था। पुलिस विभाग के जिला सत्र न्यायालय से अनुमति प्राप्त हो गया है, अब इस मामले के सभी संदिग्धों का नार्को टेस्ट किया जायेगा, जिससे आवेदिका को शीघ्र न्याय मिल सकेगा।

Next Story
Share it