Action India
झारखंड

लालू प्रसाद रहेंगे अभी जेल में, जमानत पर टली सुनवाई, अगली सुनवाई 11 दिसंबर को

लालू प्रसाद रहेंगे अभी जेल में, जमानत पर टली सुनवाई, अगली सुनवाई 11 दिसंबर को
X

रांची । एक्शन इंडिया न्यूज़

चारा घोटाला में सजायाफ्ता बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री व राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की जमानत याचिका पर शुक्रवार को झारखंड हाईकोर्ट में सुनवाई टल गयी।जस्टिस अपरेश कुमार सिंह की अदालत में जमानत पर सुनवाई के लिए अपील याचिका सूचीबद्ध थी। अब 11 दिसंबर को इस मामले में अगली सुनवाई होगी।चारा घोटाले से जुड़े तीन अन्य मामलों में उन्हें पहले ही जमानत मिल चुकी है। लालू की तरफ से जस्टिस अपरेश कुमार सिंह की अदालत में दुमका कोषागार से अवैध निकासी मामले में लालू ने जमानत के लिए याचिका दाखिल की थी। इससे पहले 6 नवंबर को हाइकोर्ट में लालू का जमनत पर सुनवाई टल गयी थी।

उल्लेखनीय है कि दुमका कोषागार मामले में सीबीआई की विशेष अदालत लालू को सात साल की सजा सुनायी थी। जिसपर लालू के वकील देवर्षि मंडल ने कोर्ट में याचिका दाखिल कर कहा था कि उनके मुवक्किल ने इसकी आधी सजा काट ली है और कोर्ट से आग्रह किया कि इसलिए उन्हें जमानत दी जाये। चारा घोटाले से संबंधित पांच मामले झारखंड में चल रहे हैं। जिसमें से चार मामलों में सीबीआई कोर्ट ने उन्हें सजा सुना दी है।

डोरंडा कोषागार मामले में सुनवाई अभी सीबीआई कोर्ट में चल रही है। जिन चार मामलों में लालू को सजा मिली है। उसके खिलाफ उन्होंने हाईकोर्ट में अपील की है, जिसमेंं से तीन मामले में हाईकोर्ट ने पहले ही उन्हें जमानत दे दी है। लालू 23 दिसंबर 2017 से चारा घोटाला मामले में जेल में बंद हैं। दुमका, देवघर और चाईबासा कोषागार से अवैध निकासी मामले में सीबीआई की विशेष अदालत इन्हें सजा सुना चुकी है।

देवघर और चाईबासा से जुड़े तीन मामले में इन्हें जमानत मिल चुकी है। चाईबासा के दो मामलों में लालू को जमानत मिल चुकी है। चारा घोटाला का यह आखरी मामला है जिसमें लालू को जमानत मिलना बाकी है। माना जा रहा है कि इस मामले में जमानत मिलने के बाद लालू जेल से बाहर आ सकते हैं । सुनवाई टलने से उनके समर्थकों में मायूसी है। लालू को जमानत मिलने की उम्मीद में रिम्स में भर्ती लालू से मिलने के लिए काफी संख्या में समर्थक रिम्स पहुंचे हुए थे।

समर्थकों को उम्मीद थी कि लालू को आज बेल मिल जाएगा और बाहर आएंगे। ऐसे में उनके स्वागत के लिए बिहार और झारखंड के विभिन्न जिलों से समर्थक पहुंचे हुए थे। बिहार से आए समर्थकों का कहना है कि लालू को बेवजह फंसाया गया और अब हॉर्स ट्रेडिंग में उन्हें फंसाया जा रहा है। उनके समर्थकों का दावा है कि जोड़-तोड़ के आंकड़ों से भाजपा खेल रही है ।जबकि राजद की सरकार बननी पक्की है ।

लालू के बाहर आते ही बिहार में राजद की सरकार बनना तय है। लालू के समर्थक उनके लिए बिहार से कई तरह के खाने पीने की चीजें लेकर पहुंचे हैं। उनके लिए सत्तू की पोटली भी लेकर आए एक समर्थक लालू का हाथ से बनाया हुआ फोटो भी उन्हें भेंट करने के लिए पहुंचे है। हालांकि सुरक्षा व्यवस्था दुरुस्त होने और अनुमति नहीं लिए जाने के कारण किसी को उनसे मिलने नहीं दिया जा रहा है। सभी लोग बाहर से ही लालू यादव जिंदाबाद के नारे लगा रहे हैं।

Next Story
Share it