Action India
झारखंड

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल के निधन पर झारखंड के नेताओं ने शोक जताया

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल के निधन पर  झारखंड  के नेताओं ने शोक जताया
X

रांची । एक्शन इंडिया न्यूज़

झारखंड कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष रामेश्वर उरांव, विधायक दल के नेता आलमगीर आलम, मंत्री बादल पत्रलेख, बन्ना गुप्ता, विधायक प्रदीप यादव, प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे सहित अन्य नेताओं ने राज्यसभा सांसद सह पार्टी के कोषाध्यक्ष अहमद पटेल के निधन पर गहरा दुख एवं संवेदना प्रकट किया है।

डॉक्टरों की सलाह पर कोरोना संक्रमण के बाद स्वास्थ्य लाभ ले रहे रामेश्वर उरांव के बरियातू स्थित आवास पर श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया, जिसमें कम संख्या में लोग उपस्थित होकर अपने दिवंगत नेता को श्रद्धा सुमन अर्पित किया।

इस अवसर पर कांग्रेस नेताओं ने अहमद पटेल के चित्र पर माल्यार्पण की, पुष्पांजलि अर्पित किया एवं दो मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि दी। रामेश्वर उरांव ने पार्टी के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद अहमद पटेल के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए इसे पूरे देश के लिए अपूरणीय क्षति बताते हुए कहा कि पटेल साहब के असामयिक निधन के बारे में सुनकर मन दुखित एवं व्यथित है। इस चुनौतीपूर्ण मुश्किल घड़ी में देश और कांग्रेस पार्टी के लिए अपूरणीय क्षति है। मेरी गहरी संवेदना उनके परिजनों शुभचिंतकों और देशभर के लाखों-करोड़ों कार्यकर्ताओं के साथ है। उरांव ने कहा कि करीब पांच दशक तक कांग्रेस संगठन में सक्रिय अहमद पटेल ने संगठन की मजबूती के लिए जो काम किया, उसे कभी भुलाया नहीं जा सकता। उनकी संगठनात्मक क्षमता, समाज सेवा के प्रति उनकी निष्ठा और कर्त्तव्य के प्रति ईमानदारी के कारण सभी उनका सम्मान करते थे।

मंत्री बादल पत्रलेख ने कहा कि अहमद पटेल कांग्रेस पार्टी के संकटमोचक, हर राजनीतिक मर्ज की दवा थे। मृदुभाषी,व्यवहार कुशल और सदैव मुस्कुराते रहने वाले महान शख्सियत का निधन देश का एवं कांग्रेस पार्टी की बड़ी क्षति हुई है जिसकी कमी आने वाले दिनों में पूरी नहीं की जा सकती। बादल पत्रलेख ने कहा कि यूपीए एक और यूपीए-2 के दौरान प्रधानमंत्री के साथ एक सलाहकार के रूप में एक बड़े रणनीतिकार और देश को विकास के रास्ते पर आगे ले चलने में उनकी महत्वपूर्ण भागीदारी के लिए हमेशा याद की जाती रहेगी ।

विधायक प्रदीप यादव ने कहा कि पटेल का निधन पार्टी के लिए तो अपूरणीय क्षति है ही,देश के लिए भी अपूर्ण क्षति है। कांग्रेस पार्टी के अंदर उनकी कार्यशैली सबसे महत्वपूर्ण मानी जाती थी। देश ने एक बड़े राजनीतिक को खोया है तो पार्टी ने अपना अभिभावक। आलोक कुमार दूबे ने कहा कि आज एक दुखद दिन है। हर मुश्किल घड़ी में पार्टी के साथ खड़े रहे और पार्टी के खेवनहार बने रहे अहमद पटेल के निधन से देश भर के लाखों करोड़ों कार्यकर्ता दुखी हैं।

Next Story
Share it