Top
Action India

दिल्ली चुनाव को लेकर शहरवासियों में पहली बार दिखी उत्सुकता

  • दिल्ली के परिणाम अन्य प्रदेशों को कर सकते हैं प्रभावित

कानपुर। एएनएन (Action News Network)

न तो अपने प्रदेश का चुनाव है न तो देश का चुनाव है, इसके बावजूद शहरवासी दिल्ली चुनाव के परिणाम को लेकर उत्सुक दिखे। सुबह से ही लोग टीवी पर परिणाम को लेकर टकटकी लगाये रहे। आप के पक्ष में चुनाव परिणाम आते ही जनमानस में खुशी की लहर दिखी। ऐसे में राजनीतिज्ञों का मानना है कि दिल्ली का चुनाव अन्य प्रदेशों को भी प्रभावित कर सकता है।

देश की राजधानी दिल्ली का चुनाव तो वैसे हर पांच साल में होता था और अन्य प्रदेशों की भांति लोग अगले दिन या शाम को समाचार देखते थे। मतगणना के दौरान लोग अपने-अपने काम में व्यस्त रहते थे, लेकिन अबकी बार देखा गया कि एक दिन पहले से ही दिल्ली चुनाव को लेकर चर्चा करते देखे गये। सोमवार को सुबह से लोग टीवी पर टकटकी लगाये रहे और आम आदमी पार्टी की बढ़त के साथ खुशी की लहर दिखी, जबकि आम आदमी पार्टी का शहर में कोई वजूद नहीं है।

इसके बावजूद लोगों में दिल्ली में हुए काम को लेकर विश्वास दिखा। अध्यापक हरीराम कटियार का कहना है कि अब लोग बहकावे में आने वाले नहीं है उन्हे काम दिखना चाहिये। दिल्ली में काम का इनाम जनता ने दिया है और इससे उम्मीद है कि प्रदेश की भाजपा सरकार भी अपने विकास को और गति देगी। व्यवसाई अश्विनी अग्रवाल का कहना है कि सोशल मीडिया का युग है और जनता राजनीतिक पार्टियों की कथनी करनी को भांप लेती है।

विकास का मुद्दा राजनीति में हर बार बनता है पर होता नहीं है, दिल्ली के चुनाव परिणाम सभी राजनीतिक दलों को सोचने को मजबूर करेंगे। वहीं राजनीति के जानकार अवनीश अग्निहोत्री का कहना है कि जिस प्रकार दिल्ली के चुनाव को लेकर देश की जनता ने दिलचस्पी दिखाई है उससे अन्य प्रदेशों के चुनाव पर असर पड़ना तय है। उनका कहना है कि इस चुनाव का परिणाम राजनीति में बदलाव लाएगा और राजनीतिक दलों को विकास का मुद्दा रखने को मजबूर होना पड़ेगा। अब विकास की बात कहने पर से ही काम चलने वाला नहीं है जनता विकास लेकर ही रहेगी।

Next Story
Share it