Top
Action India

'मैं नहीं तूू' के भाव से वनवासी कल्याण आश्रम ने दिया समरसता का संदेश

मैं नहीं तूू के भाव से वनवासी कल्याण आश्रम ने दिया समरसता का संदेश
X

बेगूसराय। एक्शन इंडिया न्यूज़

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवक हमेशा शोषित और वंचितों के हित में काम करते रहते हैं। आपदा हो या त्योहार, स्वयंसेवक अपने सब काम छोड़कर लोगों की सहायता में लग जाते हैं। इसी कड़ी में वनवासी कल्याण आश्रम महिला समिति बेगूसराय द्वारा समाज में समरसता का संदेश देते हुए वंचित समाज के छठ व्रतियों को आपसी सहयोग से 75 पीतल का सूप, नारियल, घी तथा अन्य पूजन सामग्री का अर्पण किया।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि भाजपा के नवनिर्वाचित विधायक कुंदन कुमार सिंह ने कहा कि वनवासी कल्याण आश्रम का यह कार्य अनुकरणीय है। आपने वैसे परिवार को चुना है जो अभाव ग्रस्त हैं। आस्था के इस पर्व में उनके घर तक खुशियां कल्याण आश्रम के सहयोग से पहुंच रहा है, ये सुखद है।

वनवासी कल्याण आश्रम के जिलाध्यक्ष शम्भू कुमार ने कहा कि हमारा काम ही समाज के कड़ियों को जोड़ना है। 'मैं नहीं तूू' के भाव से हम काम करते हैं। सशक्त, स्वावलंबी और समरस समाज का निर्माण हो, इसी भाव से कल्याण आश्रम काम करता है। कार्यक्रम का आयोजन और आगत अतिथियोंं का स्वागत वनवासी कल्याण आश्रम के महिला समिति के अध्यक्ष सरिता सुल्तानिया ने किया। उन्होंने कहा कि महिला समिति के सदस्यों के आपसी सहयोग से ही यह कार्यक्रम सफल हो सका है। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विनोद हिसारिया, प्रेम रूंगटा, संदीप मस्करा, ऊषा रानी एवं कृष्ण मोहन पप्पू ने विभिन्न आयामों की चर्चा करते हुए समिति द्वारा किये जा रहे कार्य की सराहना की। कार्यक्रम का संचालन राकेश कुमार ने किया।

Next Story
Share it