Action India

एन्काउंटर में मारे गए तिहरे हत्याकांड के आरोपित दिलीप का शव परिजनों को सौंपा गया

एन्काउंटर में मारे गए तिहरे हत्याकांड के आरोपित दिलीप का शव परिजनों को सौंपा गया
X

रतलाम। एक्शन इंडिया न्यूज़

रतलाम जिले के तिहरे हत्याकांड के आरोपित दिलीप देवल का शव शुक्रवार को पोस्टमार्टम के बाद उसके परिजन को सौंप दिया गया। इंदौर से उसकी पत्नी अनुराध अपने दो बच्चो सहित रतलाम पहुंची तथा दाहोद से मृतक के पिता भावसिंह व काका धुरासिंह तथा भाई सुनील देवल व ससुर वीरसिंह अस्पताल पहुंचे। मीडिया ने उनसे बातचीत करने की कोशिश की, लेकिन किसी ने बात नहीं की। मुख्यमंत्री तथा गृह मंत्री ने रतलाम पुलिस को इस कार्य के लिए बधाई दी है।

रतलाम में चार तथा दाहोद में दो हत्या का आरोपित दिलीप देवल गुरुवार की रात पुलिस एन्काउंटर में मारा गया था। इस मुठभेड़ में दो सब इंस्पेक्टर सहित पांच पुलिसकर्मी भी घायल हुए। घायल पुलिसकर्मियों को उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती किया गया है, जहां उनका उपचार जारी है। पुलिस द्वारा यह एन्काउंटर तीसरा था, इसके पूर्व 2003 में बस लूटेरे बहादूर को रावटी के पास तथा 2010 में वांटेड अपराधी फय्युम खां का आलोट में एन्काउंटर किया गया था।

एक सप्ताह पहले राजीव नगर में अपने साथियों के साथ लूट और तिहरे हत्याकांड की घटना का यह मुख्य आरोपित था। पुलिस को मुखबिर से खबर मिली थी कि दिलीप खाचरोद रोड़ पर होमगार्ड कालोनी के निकट मिटटाउन कालोनी जा रहा है, जहां वह किराये के मकान में रह रहा था। पुलिस ने उसका पीछा कर घेराबंदी करके उसको पकड़ने की कोशिश की, लेकिन उसने पुलिस पर फायर किया। पुलिस तथा देवल के बीच गोलीबारी हुई, जिसमें दिलीप मारा गया और दो सब इंस्पेक्टर अय्युब खान तथा अनुराग यादव सहित तीन पुलिसकर्मी आर.विपुल भावसार, हिम्मतसिंह तथा बलराम घायल हो गए। सूचना मिलते ही डीआईजी सुशांत सक्सेना और एसपी गौरव तिवारी मौके पर पहुंच गए।

ज्ञातव्य है कि 25 नवम्बर की रात राजीव नगर में रहने वाले 50 वर्षीय गोविन्द सोलंकी, उनकी पत्नी 45 वर्षीय शारदा और बेटी 21 वर्षीय दिव्या की दिलीप सहित उसके साथियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। पहचान होने के बाद पता चला कि दिलीप ने अपने साथी अनुराग उर्फ बाबी पुत्र प्रवीणसिंह निवासी विनोबा नगर, गोलु उर्फ गौरव पुत्र राजेश बिलवाल निवासी रेलवे कालोनी गली न. 7 रतलाम, लाला पुत्र मनु भाभोर निवासी ग्राम अबलोट लिम्बु फलिया थाना जेसवाड़ा जिला दाहोद के साथ साजिश रचकर हत्या कर दी थी।

आरोपित दिलीप गुजरात का निवासी था, उस पर रतलाम कस्तूरबा नगर में एक महिला तथा दो हत्याएं दाहोद जिले में करने का अपराध दर्ज है। आज दोपहर को इंदौर से मृतक दिलीप की पत्नी अनुराधा दो बच्चों के साथ अस्पताल पहुंची, वहीं दाहोद से मृतक के पिता भावसिंह व काका धुरासिंह तथा भाई सुनील देवल व ससुर वीरसिंह अस्पताल पहुंचे। उनकी मौजूदगी में पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया।

  • मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर पुलिस टीम को बधाई दी

मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने ट्वीट करके रतलाम पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी उनकी टीम को बधाई दी तथा घायल पुलिसकर्मियों के स्वस्थ होने की कामना की। एक अन्य ट्वीट कर उन्होंने कहा कि जब पुलिस टीम उसे पकडऩे गई तो उसने टीम पर गोलियां चलाई ,जिसमें हमारे बहादूर जवान घायल भी हुए। मैं पूरी टीम को मध्यप्रदेश की तरफ से धन्यवाद देता हूं। ऐसे नरपिशाच को समाज में रहने का अधिकार नहीं है।

  • गृह मंत्री ने भी दी बधाई

पुलिस एंकाउंटर में तिहरे हत्याकांड के मुख्य आरोपित के मारे जाने पर गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने शुक्रवार को भोपाल में मीीडया से बातचीत करते हुए रतलाम पुलिस को बधाई दी। उन्होंने कहा कि मैंने अपराधियों को चेतावनी दी है कि वे सुधर जाए या मध्यप्रदेश की धरती को छोड़ दे अन्यथा हर अपराधी का हश्र दिलीप देवल जैसा होगा।

Next Story
Share it