Action India

करोड़ों की लागत से आठ माह पहले किया सौंदर्य करण, अब स्वयं रेलवे चला रहा कुदाली

करोड़ों की लागत से आठ माह पहले किया सौंदर्य करण, अब स्वयं रेलवे चला रहा कुदाली
X

अशोकनगर । एक्शन इंडिया न्यूज़

अशोकनगर रेलवे स्टेशन को मॉडल स्टेशन के रूप में 12 करोड़ रुपये की लागत से किए गए सौंदर्य करण के एक हिस्से पर अब रेलवे, रेल दोहरीकरण होने से कुदाली चलाने जा रहा है। आठ माह पूर्व फरवरी माह में भोपाल रेल मण्डल के डीआरएम उदय बोरवणकर की उपस्थिति में अशोकनगर रेलवे स्टेशन को मॉडल स्टेशन का स्वरूप प्रदान करने करीब 12 करोड़ रुपये की लागत से सौंदर्य करण किया गया था। जिसके तहत प्लेट फार्म 1 एवं 2 के द्वारों का नवनिर्माण के साथ सडक़ निर्माण, पार्क निर्माण, पेंटिंग आदि का सौंदर्य करण किया गया था। अब इस सौंदर्य करण के स्वरूप पर प्लेट फार्म 2 पर बने नव निर्मित द्वार एवं नव निर्मित सडक़ आदि सौंदर्यकरण पर रेलवे स्वयं अपनी कुदाली चलाने जा रहा है।

गौरतलब रहे कि इस रेल खण्ड पर रेल विकास निगम लिमिटेड द्वारा कोटा-बीना रेल लाईन का दोहरीकरण तेज गति से चल रहा है। अब इसी के तहत अशोकनगर रेलवे स्टेशन पर रेल लाईन दोहरीकरण के तहत एक नई रेल लाईन का विस्तार प्लेट फार्म तीन पर किया जाना है। जिसके तहत यहां रेल दोहरीकरण का कार्य तेजी से किया जा रहा है। वहीं इस नई रेल लाईन को लेकर प्लेट फार्म 2 के दूसरी तरफ प्लेट फार्म 3 की तैयारी के साथ दोनों तरफ से रेल लाईन बिछाने के लिए मशीनों से खुदाई कर जमीन को समतल किया जा रहा है, वहीं बीच में खड़े वृक्षों की कटाई भी जारी है। अब इस बीच, बीच में आने वाले मॉडल स्टेशन के नवनिर्मित द्वार पर भी रेलवे की कुदाली चलने जा रही है। वहीं नवनिर्मित सडक़ की खुदाई कर नई रेल लाईन बिछाई जा रही है। जिससे आठ माह पूर्व रेलवे द्वारा किया गया प्लेट फार्म 2 का पूरा सौंदर्यकरण नष्ट होने जा रहा है।

इस संबंध में भोपाल रेल मण्डल के अति.डिविजनल इंजीनियर ऋषि यादव का कहना है कि किसी बड़े कार्य के लिए छोटे कार्यों का नुकसान उठाना पड़ता है।

पहले से पता था, फिर भी किया निर्माण:

गौरतलब रहे कि रेल विकास निगम लिमिटेड ने वर्ष 2013 में कोटा-बीना रेल दोहरीकरण की शुरूआत की थी, जिसके तहत इस रेल खण्ड पर रेल लाईन दोहरीकरण का कार्य किया जा रहा था। जबकि इस रेल दोहरीकरण को लेकर यहां प्लेट फार्म 3 की संभावनायें पहले से तय थीं, इसके बावजूद भी प्लेट फार्म 3 के नियत स्थान पर रेलवे द्वारा आठ माह पूर्व करोड़ों रुपये लगाकर सौंदर्यकरण किया गया, जिस पर अब रेलवे स्वयं कुदाली चलाने जा रहा है।

Next Story
Share it