Top
Action India

संशोधित... तिहरे हत्याकांड के संदिग्ध आरोपी की लाश मिली, पुलिस नए एंगल से तलाशेगी कारण

संशोधित... तिहरे हत्याकांड के संदिग्ध आरोपी की लाश मिली, पुलिस नए एंगल से तलाशेगी कारण
X

बांसवाड़ा। एक्शन इंडिया न्यूज़

शहर के बहुचर्चित तिहरे हत्याकांड में नया मोड़ सामने आया है। इस पूरे मामले में पुलिस प्रमुख रुप से पति को संदिग्ध मानते हुए उसकी तलाश में जुटी थी, लेकिन हत्या के दूसरे दिन ही पति की लाश भी जयपुर रोड स्थित एक तालाब में तैरती मिली है। पुलिस ने लाश को निकलवाकर मोर्चरी में रखवाया है। धौलपुर से परिजन भी पहुंच गए। पुलिस उनकी उपस्थिति में अब चारों ही शव के पोस्टमार्टम करवाने में जुटी है। फिलहाल महिला और उसके दो बच्चों की हत्या के मामले के सवालों के जवाब ढूंढ रही है।

उल्लेखनीय है कि शहर में पॉश कॉलोनी मानी जाने वाली राती तलाई में गुरुवार सुबह किराए पर रह रहे देवेंद्र शर्मा की पत्नी नीतू और उसके दो बच्चों श्वेता तथा आर्यन की खूनी से लथपत लाश मिली थी। अज्ञात व्यक्ति द्वारा गला रेत कर उन्हें मौत के घाट उतारा गया था। एक ही परिवार के 3 लोगों की निर्दयता से की गई हत्या को लेकर पूरे शहर में सनसनी फैल गई। पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे, लेकिन मृतका का पति देवेंद्र शर्मा गायब मिला, जबकि गत रात वह घर पर ही था। ऐसे में पुलिस अधिकारी प्रमुख तौर पर उसे ही संदिग्ध मानकर चल रहे थे। धौलपुर स्थित देवेंद्र शर्मा के परिजनों को सूचना देने के बाद पुलिस की अलग-अलग टीमें इस मामले की पड़ताल में जुटी थी। पुलिस गुरुवार को दिन भर सीसीटीवी फुटेज चलती रही। वहीं आसपास के जंगल और प्रमुख जल स्त्रोतों को भी सरसरी तौर पर चेक करती रही। देर रात एक फुटेज में देवेंद्र के सिविल लाइंस की ओर जाने की पुष्टि हो गई, लेकिन उसके बाद वह कहां गया, इसका पता नहीं चल पा रहा था, क्योंकि सिविल लाइंस जयपुर रोड से जुड़ा हुआ है। ऐसे में उसके किसी बस में बैठकर जयपुर की ओर चले जाने या फिर डायलॉब तालाब में आत्महत्या किए जाने की भी आशंका जताई जा रही थी।

दूसरे दिन शुक्रवार सुबह इस पूरे मामले में एक नया मोड़ सामने आया. जब पुलिस को सूचना मिली कि तालाब में अज्ञात व्यक्ति की लाश तैर रही है। कोतवाली थाना प्रभारी मोती राम सारण, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रामकृष्ण मीणा, सहायक पुलिस अधीक्षक राजर्षि वर्मा के बाद पुलिस अधीक्षक कावेंद्र सिंह सागर मौके पर पहुंचे। हाउसिंग बोर्ड चौकी प्रभारी चौकी प्रभारी विवेक भान सिंह और राज तालाब चौकी प्रभारी नारायण सिंह नाव के जरिए तालाब में पहुंचे और शव को बाहर निकाला, क्योंकि देवेंद्र के परिजन धौलपुर से पहुंच चुके थे। ऐसे में लाश दिखाने पर उन्होंने उसकी शिनाख्त देवेंद्र के रूप में की। मौके पर पंचनामा तैयार करने के बाद पुलिस शव लेकर मोर्चरी पहुंची।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि परिजनों द्वारा मृतक की शिनाख्त करने के साथ ही इस मामले में अब अन्य एंगलों से जांच की जा रही है। प्रारंभिक तौर पर देवेंद्र अपनी पत्नी और दो बच्चों की हत्या का संदिग्ध माना जा रहा था। सबूतों और पूछताछ के आधार पर जांच को आगे बढ़ाया जाएगा।

Next Story
Share it