Top
Action India

हमीरपुर में दो वर्षीय बच्ची सहित 16 मरीजों ने जीती कोरोना से जंग

शिमला । एएनएन (Action News Network)

हमीरपुर जिला में कोरोना के लगातार बढ़ रहे मामलों के बीच मरीजों के ठीक होने का सिलसिला भी जारी है। सोमवार को दो वर्षीय बच्ची सहित 16 मरीजों ने कोरोना से जंग जीत ली है। स्वास्थ्य विभाग ने स्वस्थ होने के उपरांत इन्हें गृह-संगरोध में भेजा है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. अर्चना सोनी ने बताया कि एनआईटी परिसर स्थित समर्पित कोविड केयर सेंटर, हमीरपुर से 15 तथा आरसीएच भोटा से एक मरीज को स्वस्थ होने के उपरांत डिस्चार्ज किया गया है। यह सभी लोग अब गृह-संगरोध में रहेंगे।

उन्होंने बताया कि इनमें भोरंज के तरक्वाड़ी क्षेत्र की 32 वर्षीय महिला एवं पांच वर्षीय बच्चा, बड़सर क्षेत्र के घरयानी से 62 वर्षीय महिला और उसकी 6 वर्षीय व 11 वर्षीय दो रिश्तेदार बच्चियां, दख्योड़ा से 26 वर्षीय व्यक्ति, सुजानपुर के बीड़ बगेहड़ा से 34 वर्षीय व्यक्ति एवं उसकी 24 वर्षीय पत्नी, बड़सर के मंगरोटी का 50 वर्षीय व्यक्ति तथा देशान का 41 वर्षीय व्यक्ति, नादौन के पुतड़ियाल क्षेत्र का 12 वर्षीय बालक, भोरंज के खुथड़ी से 2 वर्षीय बच्ची, जाणी से 65 वर्षीय व्यक्ति, सुजानपुर के छनेड़ से 35 वर्षीय व्यक्ति, गलोड़ के नल्हवीं से 37 वर्षीय व्यक्ति को डीसीसीसी, हमीरपुर से स्वस्थ होने के उपरांत गृह-संगरोध में भेजा गया।

इसके अतिरिक्त आरसीएच भोटा से टौणी देवी के बफड़ी कोहिन से एक 60 वर्षीय व्यक्ति स्वस्थ हुए लोगों में शामिल है।

उन्होंने बताया कि दिल्ली से लौटे पंडवीं के एक 48 वर्षीय व्यक्ति के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि गत देर सायं हुई थी। इसके साथ जिला में 29 जून को दोपहर तक कुल संक्रमितों की संख्या 239 है जिनमें से केवल 102 सक्रिय मामले हैं और एक की मृत्यु हो गई थी।

जिला में अभी तक 136 लोग स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं। सक्रिय मामलों में डीसीएचसी भोटा में पांच तथा डीसीसीसी, हमीरपुर में 94 मरीज दाखिल हैं और तीन रोगियों को मेडिकल कॉलेज नेरचैक, मंडी रेफर किया गया था।

Next Story
Share it