Action India
अन्य राज्य

हरियाणा में फंसे 200 मजदूरों ने योगी आदित्यनाथ से लगाई घर वापसी की गुहार

हरियाणा में फंसे 200 मजदूरों ने योगी आदित्यनाथ से लगाई घर वापसी की गुहार
X

लखीमपुर-खीरी । एएनएन (Action News Network)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा अपने प्रदेश के मजदूरों को बाहर से लाने की जो मुहिम चलाई गई है, इसका बड़ा असर सामने आ रहा है। हजारों की संख्या में जहां बाहरी प्रदेशों में काम करने वाले मजदूर अपने घरों तक पहुंच चुके हैं। वहीं अभी भी दूसरे प्रदेशों में फंसे मजदूर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की ओर आशा भरी निगाहों से देख रहे हैं। ऐसा ही मामला हरियाणा से सामने आया है, यहां लखीमपुर खीरी जिला सहित पड़ोसी जनपद सीतापुर के करीब 200 मजदूर अपने परिवारों के साथ फंसे हुए हैं। यह सब लॉक डाउन से पहले हरियाणा के सुल्तानपुर झील में फसलों की कटाई का काम करने गए थे। इन्होंने भी बुधवार को सोशल नेटवर्किंग साइट व क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों के माध्यम से मुख्यमंत्री से घर वापसी की गुहार लगाई है।

समाजसेवी अनिल भार्गव द्वारा जानकारी दी गई कि पड़ोसी जनपद स्थित उनके गांव सीतापुर के थाना महोली के गांव फरीदपुर के करीब 70 मजदूर हरियाणा में फंसे हुए हैं, उन्होंने फोन कर मुझे सूचना दी है। एक वीडियो भी व्हाट्सएप के माध्यम से भेजा है। उन्होंने यह बताया है कि उन्हें इस बात की जब भनक लगी कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा दूसरे प्रदेशों में काम करने गए मजदूरों की घर वापसी की जा रही है तो उनमें भी आश जगी है, परंतु उन्हें यह नहीं पता है कि उन्हें क्या करना है और कैसे करना! जिसके बाद अनिल भार्गव ने स्थानीय मीडिया और क्षेत्रीय प्रशासन से संपर्क साधना शुरू कर दिया है। साथ ही मजदूरों को टोल फ्री नंबर 1075 सहित 112 पर अपनी जानकारी देने का सुझाव उन मजदूरों को दिया।

वहीं हिंदुस्थान समाचार के लखीमपुर खीरी जिला संवाददाता ने मजदूरों से जब बात की तो एक यह भी बात सामने आई कि सिर्फ सीतापुर के ही नहीं लखीमपुर जिले के भी कुछ लोग इस स्थान पर फंसे हुए हैं। यह भी कटाई करने ही गए थे कुल मिलाकर करीब 200 लोग अपने परिवारों के साथ हरियाणा के सुल्तानपुर झील क्षेत्र में फंसे हुए हैं। लॉक डाउन के चलते यह वापस नहीं आ पा रहे हैं। मजदूरी कर इन्हें जो पैसा मिला था वह सब खर्च हो चुका है। इन 200 लोगों में कुछ बच्चे भी शामिल हैं।

मामले में जब हरियाणा में फंसे मजदूर अंकित से फोन नम्बर 6387265256 पर संपर्क किया गया तो उसने बताया कि पहले हम लोग जो सीतापुर के गांव फरीदपुर के हैं एक जगह पर एकत्र थे लेकिन धीरे-धीरे यहां पर 200 लोग आ चुके हैं, सभी घर वापसी करना चाह रहे हैं। सभी परेशान हैं और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की ओर आशा भरी निगाहों से देख रहे हैं। इन मजदूरों में श्याम किशोर, मनोज, महेंद्र, किशन कुमार, हीरालाल, सुरेंद्र, राहुल, नवरत्न, विनीत कुमार, सूरज कुमार, कुसमा देवी, मीना देवी, राजेंद्र, रोहिनी, मानसी, अर्चना, ज्योति, पूजा, माधुरी, पिंकू, पिंकी, महेश, मीना सहित खीरी के थाना मितौली के गांव बबौना के विनीत, सूरज, छोटेलाल व नवरत्न सहित करीब 200 लोग यहां पर एकत्रित हो गए हैं।

Next Story
Share it