Action India
अन्य राज्य

2,142 कोरोना नमूनों की जांच में 70 संक्रमित, लखनऊ और संभल के 16-16 रोगी

2,142 कोरोना नमूनों की जांच में 70 संक्रमित, लखनऊ और संभल के 16-16 रोगी
X

लखनऊ । एएनएन (Action News Network)

प्रदेश में कोरोना वायरस का प्रसार जारी है। राजधानी की किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) के माइक्रोबायोलॉजी विभाग में रविवार को जांच किये गए 2,142 नमूनों में 70 की रिपोर्ट सोमवार को पॉजिटिव आई।

इनमें लखनऊ व संभल के 16-16, कन्नौज के रोगी 09, मुरादाबाद के 07,अयोध्या-बाराबंकी के 06-06, हरदोई के 04, शाहजहांपुर के 03 तथा सिद्धार्थनगर, उन्नाव व खीरी का 01-01 मरीज शामिल है।

इसके अलावा अन्य प्रयोगशालाओं की रिपोर्ट में भी प्रदेश के विभिन्न जनपदों में कोरोना के नये मामलों की पुष्टि हुई है। इटावा में आज सुबह 17 नए कोरोना मामले सामने आये हैं। एक और कोरोना संक्रमित व्यक्ति की मौत हो गई है।

कानपुर देहात जिले में सोमवार को दो संक्रमित मिले हैं। जनपद में अब कोरोना संक्रमितों की संख्या 49 पहुंच गई है। इसमें से 47 प्रवासी हैं। एक संक्रमित की सेनेटाइजर पीने से मौत हो गई थी। अब 13 कोरोना स​क्रिय मामले हैं।

बहराइच जनपद के कानूनगो पुरा में चार नए कोरोना पाजिटिव मरीज मिले हैं। ये सभी पहले मिले पॉजिटिव के परिवार के हैं। बलरामपुर जनपद में सोमवार को दो कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं। इनमें एक 12 साल का बच्चा भी शामलि हैं। मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. घनश्याम सिंह ने इसकी पुष्टि की है।

सिद्धार्थनगर जनपद में कोरोना से दो लोगों की मौत हो गई है। जबकि आज कुल 15 नए मरीज सामने आए हैं। संक्रमितों में एक 2 साल का बच्चा भी शामिल है। मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. सीमा राय ने इसकी पुष्टि की है। अब तक जिले में 220 कोरोना संक्रमित पाए जा चुके हैं। इनमें 10 की मौत हो चुकी है।

58 स​क्रिय मामले हैं। जबकि 153 लोग स्वस्थ होकर घर को जा चुके हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि कोविड अस्पताल, नाॅन कोविड अस्पताल, लाॅजिस्टिक्स, कोविड हेल्प डेस्क की स्थापना आदि की जिम्मेदारी विभाग के अलग-अलग अधिकारियों को सौंपी जाए और इनसे प्रतिदिन प्रगति रिपोर्ट प्राप्त की जाए।

उन्होंने कहा कि कोविड अस्पतालों के साथ-साथ हर एम्बुलेन्स में ऑक्सीजन की व्यवस्था हो। एल-1 अस्पतालों में भी 10 प्रतिशत बेड पर ऑक्सीजन उपलब्ध होनी चाहिए। कोविड अस्पतालों में बेड की संख्या बढ़ाने के सम्बन्ध में निरंतर कार्य किया जाए।

Next Story
Share it