Action India
अन्य राज्य

राहत वितरण के साथ छात्र और रोजगार के मुद्दों को भी उठा रही है विद्यार्थी परिषद

राहत वितरण के साथ छात्र और रोजगार के मुद्दों को भी उठा रही है विद्यार्थी परिषद
X

बेगूसराय । एएनएन (Action News Network)

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की बेगूसराय इकाई लॉक डाउन से उत्पन्न स्थिति के मद्देनजर ना केवल लगातार राहत वितरण में लगी हुई है। बल्कि छात्र, बेरोजगार और प्रवासी कामगारों के मुद्दे को भी गंभीरतापूर्वक उठा रही है। बुधवार को कार्यकर्ताओं ने बरौनी प्रखंड के मोसादपुर पंचायत में नगर सह मंत्री कमल कुमार के नेतृत्व में राहत सामग्री का वितरण किया। इस दौरान उपस्थित पूर्व राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य अजीत चौधरी ने कहा कि अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद लॉकडाउन के शुरुआती दिनों से ही लगातार राहत सामग्री का वितरण कर रही है। अब तक करीब सात हजार परिवारों के बीच राहत सामग्री का वितरण किया जा चुका है। जब तक हालात सामान्य नहीं हो जाते तब तक यह कार्य जारी रहेगा।

इसी कड़ी में आज मोसादपुर में 55 परिवारों के बीच आटा, आलू, सोयाबीन, चावल, दाल, नमक, तेल एवं साबुन का वितरण किया गया है।प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य सोनू सरकार ने कहा लॉकडाउन की वजह से दैनिक मजदूरी कर जीवन यापन करने वाले पर सबसे ज्यादा असर पड़ा है। ऐसे लोगों के लिए सरकार स्थानीय स्तर पर रोजगार का सृजन करे और आगे भी कोई भी मजदूर बिहार से पलायन नहीं करे, इसके लिए सरकार हर स्तर से पहल करे। उन्होंने कहा कि जिस रफ्तार से कोरोना संक्रमण बढ़ रहा है वो चिंता जनक है। सरकार की नीति स्पष्ट नहीं होने के वजह से आम जनता में भयाक्रोश है। प्रान्त छात्रावास सह प्रमुख मुकेश कुमार ने कहा कि एक समय था जब बिहार में शिक्षा ग्रहण करने विदेशों से छात्र छात्रा आते थे, बिहार उच्च शिक्षा का प्रमुख केंद्र रहा है। लेकिन मौजूदा समय में बिहार की शिक्षा व्यवस्था दयनीय है। आज यहां के छात्र-छात्रा उच्च शिक्षा ग्रहण करने के लिए अन्य राज्य में जाने को मजबूर हैं।

Next Story
Share it