Select Page

देश की सेवा के बाद अब क्षेत्र की सेवा ही मेरा एकमात्र लक्ष्य: दिनेश

देश की सेवा के बाद अब क्षेत्र की सेवा ही मेरा एकमात्र लक्ष्य: दिनेश

बांकनेर वॉर्ड की गली-गली को जानता हूं। यहीं पला-बढ़ा। यहीं का बालक हूं : दिनेश भारद्वाज

नई दिल्ली/टीम एक्शन इंडिया
बांकनेर वॉर्ड से आम आदमी पार्टी प्रत्याशी दिनेश भारद्वाज ने अपने प्रचार अभियान को गति दे रखी है। शीर्ष नेतृत्व का भी साथ मिल रहा और वार्ड की जनता खुद अर्जुन अवार्ड़ी दिनेश भारद्वाज के साथ जनसंपर्क व पदयात्रा में कदमताल कर वोट की अपील कर रही। इस दौरान लोगों की भीड़ देखने लायक थी। जहां भी नजर जाती है बस लोगों का हुजून देखने क मिलता है। इस मौके पर आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता गगनचुंबी नारों से वातावरण को जोश से भर दिया। बांकनेर में बस स्टैंड के पास हुए कार्यक्रम में प्रत्याशी दिनेश भारद्वाज को सिक्कों से तौला गया व फूलों और नोटों की माला पहनाकर स्वागत किया गया।
वहीं, बांकनेर गांव में ही चांद खत्री के यहां हुए भव्य स्वागत समारोह में प्रत्याशी दिनेश भारद्वाज को सेबों से तोला गया। लोगों का प्यार पाकर दिनेश भारद्वाज भावुक हो उठे और सबका आभार प्रकट किया।


क्षेत्रवासियों ने दिनेश के समर्थन में मांगे वोट: दिनेश भारद्वाज ने एक्शन इंडिया संवाददाता से बात करते हुए बताया कि आप देख सकते हैं किस तरह लोगों का प्यार मुझे मिल रहा है। इसके लिए मैं वार्ड की जनता का आभारी हूं। जनता के प्यार, सहयोग व जीत का आशीर्वाद वोट के रूप में मिला तो बांकनेर वार्ड की सारी समस्याओं का निवारण होगा।


बांकनेर वार्ड का होगा कायाकल्प:
आप प्रत्याशी दिनेश ने कहा कि बांकनेर वार्ड में कई जनसमस्याएं हैं। जनसंपर्क के दौरान लोग मुझे रोककर अपनी समस्याओं से अवगत करा रहे और समस्याओं का समाधान चाहते हैं। लोगों का कहना है कि क्षेत्र में विकास कार्य ठप पड़ा हुआ है। पार्कों में कोई सुविधा नहीं है। कूड़Þे-कचरे से गलियां पटी पड़ी है। यहीं कारण है कि क्षेत्र की जनता दिनेश भारद्वाज के चुनावी अभियान को अपना चुनाव समझकर वोट की अपील कर रहे हैं।
विधायक जी और मैं मिलकर करेंगे क्षेत्र का विकास : भारद्वाज
आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी दिनेश भारद्वाज ने कहा कि अगर आप सभी का आशीर्वाद मिला तो, निश्चित तौर पर मैं, विधायक जी के साथ मिलकर दिन-रात क्षेत्र के लिए मेहनत करुंगा। जो भी काम होंगे विधायक जी और मेरे कार्यालय से इकट्ठा होंगे।

Advertisement

Advertisement