Action India

डिंडोरी पेंड्रा से लगी सभी सीमाओं को किया गया सील, व्यक्तियों के आवागमन पर प्रतिबंध

डिंडोरी पेंड्रा से लगी सभी सीमाओं को किया गया सील, व्यक्तियों के आवागमन पर प्रतिबंध
X

अनूपपुर । एएनएन (Action News Network)

जिले की सीमा से लगे डिंडोरी जिले में विगत दिवस कोरोना पॉजिटिव प्रकरण की पुष्टि होने पर जिला प्रशासन ने डिंडोरी से लगी हुई सीमाओं में सतर्क बरतते हुए मंगलवार को डिंडोरी एवं पेंड्रा से लगी सभी सीमाओं पर नाकाबंदी के निर्देश दिए।

कलेक्टर कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर के निर्देशा पर डिंडोरी सीमा से लगे समस्त गाँवों में पुलिस एवं प्रशासन द्वारा संयुक्त गश्त कर रास्तों को अवरुद्ध किया गया। इसके साथ ही मुनादी कराकर यह आदेश दिए गए कि कोई भी व्यक्ति जो 1 अप्रैल के बाद डिंड़ोरी से आया हो वह अनिवार्य रूप से निकटतम थाने अथवा कार्यपालिक मजिस्ट्रेट कार्यालय में सूचित करे। सूचना छिपाने वालों अथवा गलत जानकारी देने वालों पर कठोर दंडात्मक कार्यवाही की जाएगी। इसके बाद गोरेला, पेंड्रा मरवाही (छत्तीसगढ़) से लगी हुई ग्रामीण सीमाओं उमरिया, भेलमा, लहसुना, चोलना, तथा डिंडोरी से लगे चंदन घाट, ग्राम कंडी कापा, जरहा से डिंडोरी मार्ग को पूर्णतया सील कर दिया गया है। मालवाहक वाहनो के अतिरिक्त आमजनो के आवागमन को पूर्णत: प्रतिबंधित किया गया,बिना सक्षम अधिकारी की अनुमति के आमजनो की आवाजाही पर कड़ाई से नियंत्रण किया जाय।

एसडीएम पुष्पराजगढ़ ग्रामीणों की विलक्षणता और उनकी समझदारी को सराहना करते हुए संतोष जताया। साथ ही ग्रामीणों से कहा अगर गांव की सीमा क्षेत्र के आसपास कोई बाहरी दिखता या गांव में प्रवेश करने की कोशिश करता है तो इसकी सूचना तत्काल पुलिस को दें। ग्रामीणों ने बताया कि डिंडौरी के करंजिया में कोरोना संक्रमण का मरीज पाया गया है। हमारे गांव में यह संक्रमण नहीं पहुंचे, इसलिए रास्ते को बंद कर दिया है। गांव की आबादी लगभग 250-300 के बीच बताई जाती है। फिलहाल ग्रामीण सीमावर्ती गांव के होने के नाते सतर्कता बरते हुए हैं। वहीं करंजिया सीमावर्ती क्षेत्र गांव भर्राटोला में प्रशासनिक अमला ने मार्ग को बंदकर आवाजाही वर्जित कर दी है।

Next Story
Share it