Top
Action India

अमेरिका ने दिया चीनी मीडिया को एक और झटका, ग्लोबल टाइम्स पर रोक

  • अमेरिका ने ग्लोबल टाइम्स सहित चीनी मीडिया पर शिकंजा कसा

लॉस एंजेल्स । एएनएन (Action News Network)

अमेरिका ने भारत सहित मित्र देशों के ख़िलाफ़ ज़हर उगलने वाले 'ग्लोबल टाइम्स' सहित चीन के चार मीडिया संस्थानों को राजनयिक मिशन की श्रेणी में रखते हुए उन पर शिकंजा कस दिया है। ये मीडिया हैं ग्लोबल टाइम्स, सी सी टी वी,, चाइना न्यूज़ सर्विस और पीपुल्स डेली।

वस्तुत: ये चारों मीडिया हाउस कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना के प्रचार तंत्र का हिस्सा हैं। अमेरिका ने यह कार्रवाई उस समय की है, जब ग्लोबल टाइम्स सहित चीनी मीडिया गलवान घाटी में भारत-चीन सेनाओं के बीच हिंसक झड़पों पर लगातार दुष्प्रचार करने में जुटा है।

अमेरिका विदेश विभाग में पूर्वी एशिया और प्रशांत महासागर क्षेत्र के सहायक सचिव डेविड स्टिलबल ने सोमवार को जारी एक वक्तव्य में कहा है कि चीन के इन चारों मीडिया संस्थानों को अमेरिका में अपने स्टाफ़ और उनकी परिसंपत्ति के बारे जानकारी देनी होगी।

उनका कहना है कि ग्लोबल टाइम्स सहित ये चारों मीडिया संस्थान स्वतंत्र नहीं है बल्कि चीन की कम्युनिस्ट पार्टी से प्रभावित और उनके अंकुश में हैं। यह दूसरा मौक़ा है, जब विदेश विभाग ने यह कार्रवाई की है और उनकी परिसंपतियों का ब्योरा माँगा गया है।

वक्तव्य में कहा गया है कि इस कार्रवाई से इन संस्थानों को सूचनाओं के बारे में पारदर्शिता से काम लेना होगा। इससे अमेरिका में ही नहीं, चीन से समाचार भेजने वालों पर भी अंकुश लग पाएगा। विदित हो, विदेश विभाग ने इस ए पूर्व चीन के कुछ अन्य मीडिया संस्थानों पर शिकंजा कसा था। अमेरिका ने यह क़दम अमेरिका के कुछ पत्रकारों को देश छोड़ कर जाने की कार्रवाई के बदले में उठाया है।

Next Story
Share it