Action India

बंगाल के लिए अब दोबारा नहीं खेलूंगा : अशोक डिंडा

बंगाल के लिए अब दोबारा नहीं खेलूंगा : अशोक डिंडा
X

कोलकाता । एएनएन (Action News Network)

भारतीय तेज गेंदबाज अशोक डिंडा ने कहा है कि बंगाल की टीम के साथ उनका कार्यकाल खत्म हो चुका है और वह अगले सत्र में घरेलू क्रिकेट खेलने के लिए अन्य विकल्प तलाश रहे हैं। बता दें कि गेंदबाजी कोच रणदेव बोस के साथ तनाव के बाद 2019-20 रणजी ट्रॉफी में सिर्फ एक मैच खेलने के बाद डिंडा को बंगाल की तरफ से हटा दिया गया था।

डिंडा ने कहा, "मैं कई वर्षों से बंगाल क्रिकेट से जुड़ा रहा हूं, और यह मेरा जीवन रहा है। मेरे पास टीम के साथ अपने समय की सबसे अच्छी यादें हैं। मैं बंगाल से प्यार करना बंद नहीं करूंगा, लेकिन मैं उनके लिए दोबारा नहीं खेल सकता। अब सब खत्म हो गया है।"
उन्होंने कहा कि मैं बंगाल के साथ अपने करियर का अंत करना चाहता था, लेकिन मेरे पास अब कोई विकल्प नहीं है। 36 वर्षीय डिंडा बंगाल के सबसे सफल गेंदबाजों में से एक रहे हैं।
उन्होंने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 420 विकेट और लिस्ट ए में 151 विकेट और टी-20 में 146 विकेट हासिल किये हैं। उन्होंने 2009 से 2013 तक भारतीय क्रिकेट टीम के लिए 13 एकदिवसीय और नौ टी 20 मुकाबले खेले हैं। उन्होंने इस सत्र में बंगाल के लिए पहला रणजी मैच केरल के खिलाफ थुम्बा में खेला और तीन विकेट लिए। इसके तुरंत बाद,कोलकाता में एक प्रशिक्षण सत्र के दौरान उनका झगड़ा बोस के साथ हो गया और उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया। उन्हें बोस से माफी मांगने का मौका दिया गया लेकिन डिंडा ने इनकार कर दिया।
कयास लगाए जा रहे हैं कि डिंडा 2020-21 के घरेलू सत्र के लिए पुदुचेरी, छत्तीसगढ़ और गोवा में से किसी एक के साथ जा सकते हैं हालाँकि, उन्होंने अभी तक एनओसी के लिए क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ़ बंगाल में आवेदन नहीं किया है।

Next Story
Share it