Action India

नस्लवाद के कारण आत्महत्या करने की सोचने लगा था : अज़ीम रफीक

नस्लवाद के कारण आत्महत्या करने की सोचने लगा था : अज़ीम रफीक
X

लंदन । Action India News

इंग्लैंड के पूर्व अंडर-19 स्पिनर अज़ीम रफीक ने कहा है कि काउंटी क्लब यॉर्कशायर के साथ कार्यकाल के दौरान उन्होंने कथित नस्लवाद के कारण आत्महत्या करने की सोचने लगे थे।

उन्होंने कहा,"यॉर्कशायर में अपने समय के दौरान मैं आत्महत्या करने के के काफी करीब था। मैं एक पेशेवर क्रिकेटर के रूप में अपने परिवार के सपने को जी रहा था, लेकिन अंदर ही अंदर मैं मर रहा था। मैं हर दिन दर्द में था।"

उन्होंने ने यह भी आरोप लगाया कि वह टीम में एक बाहरी व्यक्ति की तरह महसूस करते था क्योंकि उनकी पृष्ठभूमि से कोई भी नहीं था। उन्होंने कहा, "एक मुस्लिम के रूप में मैंने कई बार टीम में अपने आपको व्यवस्थित करने की कोशिश की। मैं अब पीछे देखता हूं तो अफसोस करता हूं।"

यॉर्कशायर के पूर्व कप्तान रफीक अपने प्रति क्लब के दृष्टिकोण से बहुत हैरान थे। क्लब के अधिकारियों द्वारा हमेशा उनकी शिकायतों को अनसुना कर दिया जाता था।

उन्होंने कहा,"यॉर्कशायर सुनना नहीं चाहता है और वे बदलना नहीं चाहते हैं और उसके कारण वे लोग हैं जो उन घटनाओं में शामिल थे जिनके बारे में मैं बात कर रहा हूं, वे अभी भी क्लब में हैं। वे बस इसे समाप्त करना चाहते हैं।"

उन्होंने कहा, "तथ्यों और आंकड़ों को देखें। एक स्क्वाड की तस्वीर देखें। कोचों को देखें। आप कितने गैर-श्वेत चेहरे देखते हैं? यॉर्कशायर में शहरों की जातीय विविधता के बावजूद, एशियाई समुदायों से खेल के लिए प्यार के बावजूद,कितने ऐसे एशियाई या अश्वेत खिलाड़ी हैं,जिन्हें पहली टीम में शामिल किया गया है।"

29 वर्षीय रफीक खेल से दूर एक अलग क्षेत्र में अपना करियर बना रहे हैं। उन्होंने कहा कि अब उनका प्रयास है कि वह किसी को इस दर्द को महसूस न करने दें। यॉर्कशायर ने रफीक के दावों पर सार्वजनिक प्रतिक्रिया देने से इनकार कर दिया है।

Next Story
Share it