Top
Action India

विवाद गहराने के बाद बंगाल सरकार ने दी केंद्रीय टीम को सर्वेक्षण की अनुमति

विवाद गहराने के बाद बंगाल सरकार ने दी केंद्रीय टीम को सर्वेक्षण की अनुमति
X

कोलकाता । एएनएन (Action News Network)

महानगर कोलकाता में कोरोना से उपजे हालात की समीक्षा करने पहुंची केंद्रीय टीम को रोके जाने के बाद मचे विवाद पर आखिरकार पश्चिम बंगाल सरकार ने सकारात्मक रुख अख्तियार किया है। अब केंद्रीय टीम को कोलकाता में सर्वेक्षण की अनुमति दे दी गई है। गृह मंत्रालय द्वारा भेजी गई अंतर मंत्रीय केंद्रीय टीम लीडर अपूर्व चंद्र की निगरानी में यह टीम कोलकाता के गुरुसदय रोड स्थित बीएसएफ के दफ्तर से उन क्षेत्रों का दौरा करने निकल गई है जहां कोरोना संक्रमण की वजह से हॉटस्पॉट के तौर पर चिन्हित किया गया है।

दरअसल यह टीम सोमवार को ही पहुंच गई थी। उसके बाद राज्य सरकार ने उनके दौरे को लेकर आपत्ति जताई थी और मुख्य सचिव राजीव सिन्हा ने कह दिया था कि राज्य सरकार इन्हें घूमने-फिरने नहीं देगी। शाम के समय इन्हें राज्य सचिवालय में तलब किया गया था। वहां मुख्य सचिव से इनकी बैठक हुई थी। अपूर्व ने बताया कि सिन्हा ने आश्वस्त किया था कि मंगलवार से उन्हें क्षेत्र का दौरा करने दिया जाएगा। लेकिन दोपहर के समय उन्हें सूचना दे दी गई कि उन्हें घूमने फिरने की अनुमति नहीं है। जैसे ही यह मामला मीडिया में आया सरकार की आलोचना शुरू हो गई थी।

इसके बाद मुख्य सचिव राजीव सिन्हा गुरुसदय रोड स्थित बीएसएफ के दफ्तर में गए, वहां केंद्रीय टीम के साथ उनकी बैठक हुई और अब कोलकाता तथा हावड़ा के आसपास के क्षेत्रों में कोरोना संक्रमित इलाकों का दौरा करने की अनुमति केंद्रीय टीम को दे दी गई है। राज्य सरकार के अधिकारियों को साथ लेकर केंद्र की टीम इलाके में घूमने फिरने के लिए निकली है। गौर हो कि यह टीम राज्य सरकार को भी आवश्यक दिशा निर्देश देगी और रिपोर्ट तैयार कर केंद्रीय गृह मंत्रालय को भी सौंपेगी।

Next Story
Share it