Select Page

भाकियू प्रतिनिधि मंडल की सीएम से नहीं हुई मुलाकात

भाकियू प्रतिनिधि मंडल की सीएम से नहीं हुई मुलाकात

यमुनानगर/टीम एक्शन इंडिया
गन्ने के दाम को लेकर हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से गुरुवार को चंडीगढ़ मिलने गया भाकियू का 11 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल खाली लौटा। प्रदेश अध्यक्ष रतनमान ने बताया कि आज वह भाकियू के सभी जिला अध्यक्षों को लेकर मुख्यमंत्री आवास पर उनसे गन्ने के दाम को बढ़ाने की मांग को लेकर मिलने गए थे। जिसमें सुभाष गुर्जर, जयपाल चमरोडी यमुनानगर ,सोनु मालपुरिया प्रधान पानीपत,मदनपाल बपदा कुरुक्षेत्र,जीद,रोहतक, अम्बाला पंचकुला करनाल कैथल के जिलाध्यक्ष मौजूद रहे। लेकिन मुख्यमंत्री चंडीगढ़ से बाहर थे जिस कारण से उनकी मुलाकात नहीं हो सकी। तब मुख्यमंत्री के ओएसडी भुपेशवर दयाल ने किसानो से मुलाकात की। उन्होंने किसानों के प्रतिनिधि मंडल को बताया कि 22 जनवरी को 11 बजे मुख्यमंत्री के साथ 11 किसान प्रतिनिधिमंडल की एक औपचारिक बैठक होगी। जिसमे प्रदेश के कृषि मंत्री व सरकार द्वारा बनाई गई गन्ना कमेटी भी शामिल होगी। बैठक से लौटने के बाद यमुनानगर के जिलाध्यक्ष एवम कमेटी सदस्य सुभाष गुर्जर ने बताया कि सभी किसान संगठनों ने 20 जनवरी पूरे हरियाणा में शुगर मिल बदं करने का ऐलान किया था। उसका भारतीय किसान यूनियन टिकैत का पूरा समर्थन रहेगा। उन्होंने कहा कि जब तक गन्ने का रेट नही बढेगा तब तक शुगर मिल बंद का आंदोलन जारी रहेगा। गुर्जर ने सभी किसानों से अपील की कि वें ज्यादा से ज्यादा संख्या मे कल सुबह सरस्वती शुगर मिल यमुनानगर मे पहुंचे।

Advertisement

Advertisement