Top
Action India

धर्म के आधार पर प्रताड़ित अल्पसंख्यकों को सम्मान देगा सीएए : मास्टर गौरसी

धर्म के आधार पर प्रताड़ित अल्पसंख्यकों को सम्मान देगा सीएए : मास्टर गौरसी
X

करनाल। एएनएन (Action News Network)

नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) विषय पर इंद्री के रेस्ट हाऊस में मंगलवार को भाजपा संगठन कार्यकर्ताओं की एक बैठक की गई। अध्यक्षता मंडल अध्यक्ष अमनदीप सिंह विर्क ने की। किसान मोर्चा के जिला महामंत्री मास्टर नरेंद्र गौरसी आयोजक रहे। उन्होंने इस मौके पर कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए ने कहा कि सीएए धर्म के आधार पर प्रताड़ित अल्पसंख्यकों को सम्मान देगा। नागरिकता संशोधन विधयक नागरिकता तोड़ता नहीं, अपितु जोड़ने का काम करता है।

गौरसी ने कहा कि सीएए को लेकर पूरा देश माननीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ खड़ा है। 26 सितम्बर, 1947 को महात्मा गांधी ने प्रार्थना सभा में खुले तौर पर घोषणा की थी कि पाकिस्तान में रहने वाले हिन्दू और सिख हर नजरिये से भारत आ सकते हैं। अगर वे यहां निवास करना चाहते हैं तो उस स्थिति में पुन: नौकरी देना और उनके जीवन को सामान्य बनाना भारत सरकार का पहला कर्तव्य होगा। आज उसी संकल्पना को साकार करने के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने सीएए को देश में लागू किया है। कांग्रेस और अन्य विपक्षी पार्टियां आज इसके विरोध में हैं।

उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस देश को तोड़ना चाहती है और सस्ती लोकप्रियता के लिए इस संशोधन का विरोध कर रही है। यह देशहित में नहीं है। इस विधयेक पाकिस्तान, बांग्लादेश, अफगानिस्तान से आए धर्म के आधार पर प्रताड़ित अल्पसंख्यकों को सुरक्षित करने का उद्देश्य है। आज हम सभी इसके समर्थन में लोगों को जागरूक कर रहे हैं।

बैठक में बलवान रिंकू, कृष्ण सरपंच, सतीश कुमार, राहुल, महेंद्र प्रजापत, अनिल कुमार, महेंद्र कुमार, दीपक मंगला, राजेश, कर्मवीर शर्मा, प्रगट सिंह आदि कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Next Story
Share it