Action India
अन्य राज्य

उत्तराखंड की केबिनेट बैठक हुई संपन्न, जानिये क्या क्या फैसले लिए गये !

उत्तराखंड की केबिनेट बैठक हुई संपन्न, जानिये क्या क्या फैसले लिए गये !
X

उत्तराखंड, ब्यूरो | उत्तराखंड की केबिनेट बैठक सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत की अध्यक्षता में हुई संपन्न। ये बैठक अल्मोड़ा के पर्यावरण संस्थान, कोसी में आयोजित की गयी। बैठक के बाद सीएम ने अल्मोड़ा के निर्माणाधीन राजकीय मेडिकल कॉलेज का जायजा लिया। साथ ही कई साड़ी विकास से जुडी योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण भी किया। इस बैठक में अल्मोड़ा में सोबन सिंह जीना के नाम से नया आवासीय विश्वविद्यालय बनवाने का सबसे अहम् फैसला लिया गया। साथ ही जल के सामान रूप से उपयोग के लिए जल नीति 2019 पर फैसला लिया गया। सीएम ने कहा कि सभी प्राकृतिक जल स्त्रोतों को संरक्षित किया जाएगा। और इन स्त्रोतों से ही किल्लत वाले क्षेत्रों में जल की आपूर्ति की जायेगी। इसके अलावा आईटीआई में पहले 40 रुपये लगती थी अब परिवर्तन कर 3900रुपये कर दिया गया है। इसके ऊपर मंत्री मदन कौशिक ने कहा कि जितनी फीस संस्थान से एकत्र होगी उतनी ही धनराशि सरकार अपनी ओर से मिलाकर कुल राशि को संस्थान के विकास में खर्च किया जाएगा।

केबिनेट बैठक में लिए गये कुछ अहम् फैसले -

  • 1- टिहरी में खुलेगा आईटीबीपी का एडवेंचर सेंटर।
  • 2- राजस्व अभिलेख नियमावली 2019 को मंजूरी।
  • 3- मोटर व्हीकल एक्ट में संशोधन।
  • 4- दुर्घटना में 30 दिन के अन्दर पुलिस को देनी ही होगी रिपोर्ट ।
  • 5- मिड डे मिल में स्कूली बच्चों को मिलेगा सप्ताह में एक दिन दुग्ध चूर्ण पाउडर।
  • 6- पशुपालन विभाग के सेवा नियमावली में हुआ संसोधन किया गया।
  • 7- राजभवन और विधानसभा कर्मचारियों के नियमावली में संशोधन को मंजूरी।
  • 8- बैठक में आर एस टोलिया प्रशिक्षण संस्थान के कर्मचारियों की नियमावली को मंजूरी दी गई।
  • 9- राज्य में अब कैबिनेट मंत्री खुद भरेंगे अपना इंकम टैक्स पहले सरकार जमा करती थी सरकार।
  • 10- पशुपालन वैक्सीनेंटर की सेवानियमावली को मंजूरी दी गई आदि।

इन सब फैसलों के अलावा और भी कई सारी योजनाओं पर चर्चा की गयी। इस मौके पर सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत, कैबीनेट मंत्री सुबोध उनियाल,सतपाल महाराज,रेखा आर्या, डा. धन सिंह रावत,अरविंद पांडे, डा. हरक सिंह रावत, शासकीय प्रवत्ता मदन कौशिक,यशपाल आर्या के अलावा सीएस उत्पल कुमार सिंह,प्रमुख सचिव ओम प्रकाश आदि मौजूद थे।

Next Story
Share it