Action India
अन्य राज्य

सीसीएसयू: थ्योरी कोर्स के बाद विवि ने शुरू कराए ऑनलाइन प्रैक्टिकल

सीसीएसयू: थ्योरी कोर्स के बाद विवि ने शुरू कराए ऑनलाइन प्रैक्टिकल
X

मेरठ । एएनएन (Action News Network)

कोरोना महामारी के कारण लोकडॉउन के समय में सभी स्कूल, कॉलेज एवं विश्वविद्यालय नहीं खुल रहे हैं। ऐसी परिस्थितियों में सभी संस्थानों द्वारा छात्रों के लिए ऑनलाइन कक्षाओं का संचालन किया जा रहा है। चैधरी चरण विश्वविद्यालय थ्योरी कोर्स पूरा होने के बाद आॅनलाइन प्रैकिटस कराने पर फोकस कर रहा है। इसके लिए विवि के भौतिकी विभाग ने ऑनलाइन प्रैक्टिकल कराने की पहल की गई है।

चौधरी चरण विश्वविद्यालय के भौतिकी विज्ञान विभाग द्वारा छात्र-छात्राओं के लिए ऑनलाइन माधयम से प्रैक्टिकल करने की पहल कर दी है। इसके लिए भौतिकी विभाग के शिक्षकों द्वारा ऑनलाइन उपलब्द्ध वर्चुअल लेबोरेटरी प्लेटफार्म के इस्तेमाल कर छात्र-छात्राओं को इसकी ट्रेनिंग दी जा रही है एवं पाठयक्रम के अनुकूल ऑनलाइन प्रैक्टिकल डिजाइन किये जा रहे है। भौतिकी विज्ञान विभागाध्यक्ष प्रो. वीरपाल सिंह ने बताया कि वह अपने विभाग के शिक्षकों के साथ मिलकर एमएससी भौतिकी पाठयक्रम के अनुकूल कुछ प्रैक्टिकल डिजाइन किये है, जिन्हें उनके विभाग के शिक्षकों द्वारा ऑनलाइन ही वर्चुअल लेबोरेटरी प्लेटफार्म का इस्तेमाल करते हुए सिखाना शुरू कर दिया है।

उन्होंने बताया कि एमएससी चतुर्थ सेमेस्टर के छात्र-छात्राओं के लिए अपने रिसर्च डाटा का इस्तेमाल करते हुए कुछ नैनो साइंस पर आधारित प्रैक्टिकल डिजाइन किये हैं। ये सभी प्रैक्टिकल्स वास्तविक डाटा के आधार पर तैयार किये गए है, जिन्हें छात्र- छात्राओं द्वारा विश्लेषण करते हुए विभिन्न भौतिकीय पहलुओं को समझते हुए पूरा करना होगा।

विभाग के शिक्षकों का मानना है कि कोरोना महामारी के कारण लोकडॉउन के समय में ऑनलाइन उपलबद्ध वर्चुअल लेबोरेटरी प्लेटफार्म के इस्तेमाल कर छात्र-छात्राओं को पाठयक्रम के अनुकूल ऑनलाइन प्रैक्टिकल कराने से कुछ हद तक उनके लेबोरेटरी के पाठयक्रम को पूरा करने का यह एक अच्छा प्रयास है। भौतिकी विभाग में डॉ. कविता शर्मा, डॉ. योगेंद्र गौतम एवं डॉ अनिल कुमार यादव ऑनलाइन प्रैक्टिकल करा रहे हैं। भौतिकी विभाग के बाद अब दूसरे विभागों ने भी ऑनलाइन प्रैक्टिकल कराने की तैयारी शुरू कर दी है।

Next Story
Share it