Top
Action India

छग व‍िधानसभा : व‍िपक्ष ने कहा व‍िरोध न्‍यायसंगत, अध्‍यक्ष की व्‍यवस्‍था पर उठाए सवाल

छग व‍िधानसभा :  व‍िपक्ष ने कहा व‍िरोध न्‍यायसंगत, अध्‍यक्ष की व्‍यवस्‍था पर उठाए सवाल
X

रायपुर। एएनएन (Action News Network)

छत्‍तीसगढ़ व‍िधानसभा की कार्यवाही 25 मार्च तक स्‍थग‍ित होने के बाद संयुक्‍त व‍िपक्ष ने हंगामा करते हुए गर्भगृह में धरने पर बैठ गया। करीब घंटों धरने पर बैठे रहने के बाद संसदीय कार्यमंत्री रवींद्र चौबे व‍िपक्ष को मनाने पहुंचे। उसके बाद पूरा व‍िपक्ष उठकर नेता प्रत‍िपक्ष के कक्ष में बैठक के ल‍िए चले गए। वहीं विपक्ष ने पूरे मामले में विरोध को न्यायसंगत बताते हुए अध्यक्ष की व्यवस्था पर असंतोष जाहिर किया है और अध्यक्ष चरणदास महंत के ख‍िलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने की बात कही है।

उल्‍लेखनीय है क‍ि सदन में शून्यकाल शुरु होते ही अध्यक्ष चरणदास महंत ने कार्यमंत्रणा समिति के निर्णय से सहमत होते हुए सदन की कार्यवाही 25 मार्च तक के लिए स्थगित कर दी। इस पर विपक्ष ने तीखा विरोध जताया। सदन में गर्भगृह पर विपक्ष धरने पर बैठ गया और उसके ठीक पहले विपक्ष ने कार्यसूची को फाड़ कर गर्भ गृह में फेंक दिया। विपक्ष धरने पर सदन के स्थगित होने के बाद घंटों तक बैठा रहा। विपक्ष को मनाने संसदीय कार्यमंत्री रविंद्र चौबे पहुंचे, लेकिन विपक्ष ने अध्यक्ष के ना आने पर क्षोभ प्रगट किया और धरने से उठकर नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक के कक्ष में चले गए।

वहीं भाजपा के तेज तर्रार विधायक अजय चंद्राकर, वरिष्ठ विधायक बृजमोहन अग्रवाल और नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा क‍ि लगातार सदन की कार्यवाही अव्यवस्थित की जा रही है। दो दो बार राज्यपाल का अभिभाषण करा दिया गया। बजट बता कर प्रश्नकाल को विलोपित कर दिया गया। यह व्यवस्था कैसे सही कही जाएगी। हम अध्यक्ष चरणदास महंत के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव लाने का विचार कर रहे हैं।

अजय चंद्राकर ने कहा क‍ि सदन कार्यसूची से चलता है, जब कार्यसूची का महत्व ही नहीं है तो ऐसी कार्यसूची का हमें क्या करना है। हमने उसे फाड़ाकर कोई असंसदीय कार्य नहीं किया। मुख्यमंत्री के विभाग का प्रश्नकाल नहीं लिया गया। उनके विभाग का एक भी ध्यानाकर्षण नहीं ल‍िया गया। सरकारी प्रस्ताव पर प्रश्नकाल स्थगित कर द‍िया गया, हम प्रश्नकाल चलाने की मांग कर रहे थे। लगातार विपक्ष के अधिकारों का हनन किया जा रहा है। संयुक्‍त व‍िपक्ष ने व‍िधानसभा अध्‍यक्ष के ख‍िलाफ अव‍िश्‍वास प्रस्‍ताव लाने का न‍िर्णय ल‍िया है।

Next Story
Share it