Top
Action India

चीन में कोरोना वायरस से हुई चौथी मौत, डब्लूएचओ ने बुलाई आपात बैठक

चीन में कोरोना वायरस से हुई चौथी मौत, डब्लूएचओ ने बुलाई आपात बैठक
X

बीजिंग। एएनएन (Action News Network)

चीन में रहस्यमयी कोरोना वायरस से मंगलवार को चौथी मौत हो गई है। इस संबंध में विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्लूएचओ) ने बुधवार को आपात बैठक बुलाई है। इस बैठक में ‘अंतरराष्ट्रीय स्वास्थ्य आपातकाल’ घोषित करने पर विचार किया जाएगा।

पूरी तरह से संक्रामक यह वायरस पूरे देश में बहुत तेजी से फैल रहा है। अभी तक चार लोगों की इससे जान भी जा चुकी है।

बीजिंग, शंघाई और चीन के अन्य प्रांतों में 220 से अधिक लोग संक्रमित हैं। विदेशों में पांच मामले सामने आए हैं, इनमें ऑस्ट्रेलिया का एक संदिग्ध मामला भी शामिल है। एक जापान में और दो मामले थाइलैंड से सामने आए हैं। हांगकांग से 106 संदिग्ध मामले सामने आए हैं।

सीवियर एक्यूट रेस्पीरेट्री सिंडरोम (सार्स) से संबंधित सबसे पहले वुहान में पहला मामला सामने आया था। भारत समेत कई देशों को अलर्ट पर रखा गया है। साथ ही चीन से आने वाले सभी यात्रियों की मेडिकल जांच की जा रही है, विशेषकर जो वुहान से आ रहे हैं। इस प्रकोप को लेकर भारत और अमेरिका पहले दो देश हैं, जिन्होंने ट्रैवल एडवाइज़री जारी की है।

डब्लूएचओ ने पहले कहा था कि इस वायरस का प्रथम स्त्रोत जानवरों से आने की आशंका है, जबकि निकट संबंध के कारण मानव से मानव संचारण को भी कारण माना गया है। विशेषज्ञ अभी भी पशु स्त्रोत को लेकर शोध कर रहे हैं, लेकिन चीन ने इस बात का पुष्टि की है कि यह बीमारी एक व्यक्ति से दूसरे तक जा सकती है।

स्टेट की लैबोरेट्री ऑफ रेस्पीरेट्री डिसीज के डायरेक्टर जोंग ननशान ने कहा है कि व्यक्ति से व्यक्ति के बीच संचारण वुहान के एक मामले के पीछे कारण था। 14 मेडिकल स्टाफ भी एक ही स्थान से वायरस के संपर्क में आया।

स्थानीय मीडिया के अनुसार चीन के राष्ट्रपति शी-जिनपिंग ने मामले पर संज्ञान लेते हुए दावा किया है कि उनका देश कोरोनावायरस के कारण होने वाले निमोनिया के प्रकोप पर जल्द ही अकुंश लगाएगा।

Next Story
Share it