Action India

सीएम बोले चिंता न करें ओला पीड़ित किसान, भाजपा ने बताया असंतुष्टों को मनाने की कवायद

सीएम बोले चिंता न करें ओला पीड़ित किसान, भाजपा ने बताया असंतुष्टों को मनाने की कवायद
X

भोपाल। एएनएन (Action News Network)

देर से ही सही मुख्यमंत्री कमलनाथ ने प्रदेश के ओलापीड़ित किसानों की सुध ली है। उन्होंने प्रदेश में हुई ओलावृष्टि के करीब एक सप्ताह बाद ट्वीट करके प्रदेश के पीड़ित किसानों से कहा है कि वे चिंता न करें, प्रदेश में किसान हितैषी सरकार है।

प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शनिवार को ट्वीट करके प्रदेश के ओलापीड़ित किसानों को ढांढस बंधाया है। उन्होंने कहा है कि किसान भाई घबराएं नहीं, प्रदेश में किसान हितैषी सरकार है। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने लिखा है कि प्रदेश सरकार ने सर्वे के निर्देश दे दिये हैं, किसानों को हुए नुकसान की भरपाई होगी। मुख्यमंत्री कमलनाथ का ये ट्वीट ऐसे समय पर आया है, जबकि भारतीय जनता किसान मोर्चा के पदाधिकारी ओलों से हुए नुकसान का मुआयना कर चुके हैं।

किसान मोर्चा ने इस मामले में सरकार पर आरोप लगाया है कि मैदानी अधिकारियों को मौखिक निर्देश दिये गए हैं कि किसानों को हुए नुकसान को 30 प्रतिशत के अंदर ही रखा जाए, ताकि उन्हें मुआवजा न देना पड़े। भाजपा ने मुख्यमंत्री कमलनाथ के इस वक्तव्य की निंदा करते हुए इसे असंतुष्ट विधायकों को मनाने की कोशिश बताया है।

पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल ने कहा है कि पिछले सवा साल में ओला, पाला, सूखा के मामले में कांग्रेस की कमलनाथ सरकार का इतिहास बताता है कि सरकार संवेदनहीन तरीके से काम करती रही है। सरकार ने न तो सर्वे कराया और न ही किसानों को मुआवजा दिया। उन्होंने मुख्यमंत्री के वक्तव्य को सार्वजनिक रूप से असंतुष्ट विधायकों की झूठी मान-मनौव्वल की कोशिश बताते हुए कहा कि यह कोशिश भी जल्द ही खत्म हो जाएगी।

@OfficeOfKNath
प्रदेश के कुछ हिस्सों में बारिश व ओलवृष्टि की खबरें प्राप्त हुई है
इससे किसान भाइयों की फ़सलो को नुक़सान पहुँचा है
किसान भाईं घबराये नहीं,चिंतित ना हो,प्रदेश में किसान हितैषी सरकार है
सर्वे के निर्देश दे दिये गये है
नुक़सान की भरपाई होगी
संकट की इस घड़ी में सरकार आपके साथ खड़ी है

Next Story
Share it