Action India
अन्य राज्य

योगी ने किया आपात सेवा 112 का उदघाटन, क़ानून के लिए काफी मददगार होगी ये सेवा

योगी ने किया आपात सेवा 112 का उदघाटन, क़ानून के लिए काफी मददगार होगी ये सेवा
X

उत्तर-प्रदेश, ब्यूरो | उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को एकीकृत आपात सेवा 112 का शुभारंभ कर दिया। इस सेवा की शुरुआत करते हुए सीएम ने कहा कि कानून का राज स्थापित करने में पुलिस की बहुत बड़ी भूमिका है। तकनीक का इस्तेमाल कर पुलिस आमजन के नजदीक पहुंचने में कामयाब होगी। उप्र पुलिस ने समय के साथ ही अपने आप में बदलाव किया है। अब 112 को ही प्रमोट करने की आवश्यकता है. अब लोगों को अलग अलग कार्यों के लिए अलग-अलग नंबर डायल करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। योगी ने कहा कि नई व्यवस्था में क्षेत्रीय भाषा में पुलिस पीड़ित से बात करेगी। मुझे बहुत प्रसन्नता है कि देश के सबसे बड़े पर्व दीपावली के पूर्व उत्तर प्रदेश पुलिस की एकीकृत आपात् सेवा 112 और वरिष्ठ नागरिक सुरक्षा पहल 'सवेरा' का एक साथ यहां पर शुभारम्भ हो रहा है। सीएम ने कहा अब पुलिस, फायर, एम्बुलेंस की सेवा 112 से मिलेगी। नागरिक 112 में रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। डायल 100, 102, 108 पर मिलने वाली मदद अब एक नंबर 112 से मिलेगी। कानून का राज स्थापित करने में पुलिस की बहुत बड़ी भूमिका है। तकनीक का इस्तेमाल कर पुलिस आमजन के नजदीक पहुंची।

समय के अनुरूप पुलिस ने कई सुधार किए. मानवीय संवेदना के साथ करना, हम सबका दायित्व है। यह कार्यक्रम यूपी डायल100 परिसर में आयोजित किया गया। 100 नंबर को 112 नंबर पर परिवर्तित करने की प्रक्रिया पहले ही पूरी कर ली गई थी। डीजीपी ओम प्रकाश सिंह ने पहले ही इसका सर्कुलर जारी कर दिया था। इससे पहले एडीजी यूपी 100 असीम अरुण ने बताया कि कुछ मोबाइल नेटवर्क से 112 डायल करने में समस्या थी, जिसका समाधान कर दिया गया है। साथ ही 112 इंडिया एप से भी यूपी की आपातकालीन सेवाओं को जोड़ दिया गया है। 112 नंबर पर कॉल करने से नेविगेशन में निश्चित लोकेशन मिलेगी। इस सेवा से फायर सर्विसेज, एंबुलेंस और एसडीआरएफ को भी जोड़ा गया है। पुलिस की गाड़ियों और साइन बोर्ड से यूपी 100 का लोगो हटाया जाएगा।

Next Story
Share it