Top
Action India

उपद्रवियों के पोस्टर लगाने पर मुख्यमंत्री योगी बोले ऐसे लोग कोरोना से भी खतरनाक

उपद्रवियों के पोस्टर लगाने पर मुख्यमंत्री योगी बोले ऐसे लोग कोरोना से भी खतरनाक
X

  • 2022 में सपा सरकार बनने के अखिलेश के दावे पर बोले हर कोई देख सकता है सपना

लखनऊ। एएनएन (Action News Network)

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राजधानी लखनऊ में नागरिकता संशोधन एक्ट (सीएए) के विरोध प्रदर्शन के दौरान उपद्रवियों के पोस्टर लगाने पर कहा कि ऐसे लोग मानवता के दुश्मन हैं। ये कोरोना वायरस से भी खतरनाक हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस मानवता के लिए खतरा है और लखनऊ में जिनके पोस्टर लगे हैं वो भी मानवता के बड़े दुश्मन हैं। इनका असली चेहरा पूरे समाज के लिए खतरा है। पोस्टर इसलिए लगाया ताकि वक्त रहते लोग इस वायरस से भी सावधान हो जाएं।

सीएए विरोध प्रदर्शनों के दौरान पुलिस ने संयम से लिया काम

मुख्यमंत्री ने सोमवार को एक टीवी कार्यक्रम में कहा कि पिछली सरकारें दंगाइयों का सम्मान करती थीं। दंगों की वजह से प्रदेश की इमेज खराब होती थी। निवेश नहीं आता था। हमारी कोशिश है कि प्रदेश में कानून का राज हो। ये लोग मानवता के दुश्मन हैं। उन्होंने कहा कि पुलिस ने सीएए विरोध प्रदर्शनों के दौरान बेहद संयम से काम लिया है। पुलिस ने अलीगढ़ को जलने से रोका है और आराजक तत्वों पर तुरंत कार्रवाई की है। जो भी लोग इस दौरान मरे हैं, वह निर्दोष नहीं हैं। दंगाई खुद अपनी ही गोली से मरे हैं।

जनता के सामने रखेंगे विपक्ष के नेताओं पर दर्ज मामलों की कुंडली

उन्होंने कहा कि आज देश में किस तरह की आजादी की बात हो रही है। नागरिकता कानून भाजपा ने नहीं बनाया, इसे कांग्रेस पार्टी ने ही बनाया था। 1947 से पहले जो गलती हुई थी, वह अब नहीं होने देंगे। सीएए आंदोलन के बाद से कई लोग एक्सपोज़ हुए हैं। सीएए के विरोध के नाम पर दंगा करने वाले कई लोगों के नाम उजागर किए जाएंगे। जो भी कानून का मज़ाक उड़ाएगा, वह अंजाम भुगतेगा। समय आने पर हम विपक्षी नेताओं पर दर्ज मामलों की कुंडली भी जनता के सामने रखेंगे। पिछली सरकारों में आए दिन दंगा होता था, कई नेताओं पर भी आरोप लगे हैं।मुख्यमंत्री ने दावा किया कि उनकी सरकार में कोई दंगा नहीं हुआ है। लखनऊ जैसे शहरों में कुछ आगजनी की घटनाएं हुईं, लेकिन दंगा नहीं हुआ। दंगा तब होता है जब दो समुदाय आपस में लड़ते हैं, लेकिन प्रदेश में ऐसा कुछ नहीं हुआ।

कोरोना से बचाव को हर सम्भव प्रयास जारी

कोरोना वायरस से बचाव और जागरूकता को लेकर मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार कोरोना वायरस से लड़ने के लिए सभी सम्भव प्रयास कर रही है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी इस बीमारी से लड़ने के लिए कई कदम उठाए हैं। वह पूरी दुनिया में अभियान चला रहे हैं।

उन्होंने कहा कि रामनवमी पर अयोध्या में मेला लगेगा या नहीं, इस पर 20 मार्च को चर्चा की जाएगी। सरकार भीड़ कल करने के लिए इस कार्यक्रम को लाइव भी करेगी, ताकि लोग अपने घरों में रहकर मेले और कार्यक्रम दोनों का भरपूर आनंद ले सके। हम सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पालन करेंगे और कतई भी भीड़ को इकट्ठा नहीं होने देंगे।

दिल्ली जाने के सवाल पर मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि मैं किसी एक खूंटे से बंधे रहने वाला नहीं हूं। मुझे पार्टी जहां बुलाएगी, मैं वहां जाऊंगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मुझे जो भी काम सौंपेंगे, वह उसको पूरा करने की कोशिश करूंगा।

अखिलेश यादव पर कसा तंज

अखिलेश यादव के अगली बार समाजवादी पार्टी की सरकार आएगी वाले दावे पर मुख्यमंत्री ने कहा है कि सपना हर कोई देख सकता है। इस पर कोई रोक नहीं है। लोकसभा में भी उन्होंने इसी तरह का दावा किया था, लेकिन क्या हुआ वह सबके सामने है। लोकसभा में बसपा ने समर्थन दे दिया, वरना अखिलेश का पूरी घर ही बेरोजगार हो जाता। अब वंशवाद और जातिवाद की राजनीति नहीं चलेगी। प्रदेश अब विकास की राह पर है।

उप्र निवेश के लिए सबसे सुरक्षित स्थान

प्रदेश में निवेश की बहुत संभावनाएं हैं। हमारी सरकार में बहुत युवाओं को सरकारी नौकरी मिली है। हमारी सरकार ने वही कदम उठाए हैं, जो प्रदेश के हित में हैं। दुनिया और भारत की तमाम कंपनियां निवेश के लिए सबसे सुरक्षित स्थान उत्तर प्रदेश को मानती हैं। किसी को धमकाया या डराया नहीं जा रहा है।

Next Story
Share it