Action India

कोरोनावायरस के चलते टोक्यो खेलों को समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है: कोट्स

कोरोनावायरस के चलते टोक्यो खेलों को समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है: कोट्स
X

मेलबर्न । एएनएन (Action News Network)

वरिष्ठ अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक अधिकारी जॉन कोट्स का कहना है कि टोक्यो खेलों के आयोजकों को कोरोनावायरस के बढ़ते प्रकोप के चलते अगले साल ओलंपिक को आयोजित करने में वास्तविक समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। ऑस्ट्रेलिया के ओलंपिक प्रमुख कोट्स का कहना है कि आयोजकों को यह मानना होगा कि कोरोनावायरस के लिए कोई वैक्सीन नहीं होगी, या फिर होगी भी तो पर्याप्त मात्रा में नहीं होगी।

कोट्स ने ऑस्ट्रेलिया के न्यूज कॉर्प द्वारा आयोजित एक गोलमेज सम्मेलन में कहा, "हमें वास्तविक समस्याओं का सामना करना पड़ेगा क्योंकि हमें 206 विभिन्न देशों से आने वाले एथलीट मिले हैं।"
उन्होंने कहा, "जापान के प्रधानमंत्री शिंजो अबे ने कहा है कि खेल केवल 2021 में हो सकते हैं। हम इसे फिर से स्थगित नहीं कर सकते हैं और हमें यह मानना ​​होगा कि कोई वैक्सीन नहीं होगी या, अगर कोई वैक्सीन विकसित होती है, तो यह पूरी दुनिया के लिए पर्याप्त मात्रा में नहीं होगी।
कोट्स ने कहा, "इस साल अक्टूबर तक, अगर ऐसे संकेत मिलते हैं कि इस वायरस का उन्मूलन नहीं किया जा रहा तो हम इसके माध्यम से काम करना शुरू करेंगे। हम उन विभिन्न परिदृश्यों पर नजर रख रहे हैं जिन से खेल हो सकता है।"

उन्होंने कहा, " ओलंपिक विलेज को एकांतवास में कर सकते हैं? जब सभी खिलाड़ी यहां आएंगे तो क्या उन्हें एकांतवास में भेजा जा सकता? क्या हम स्थानों पर दर्शकों को रखने को प्रतिबंधित कर सकते हैं? क्या हम एथलीटों को मिश्रित क्षेत्र से अलग कर सकते हैं जहां मीडिया है? ऐसे बहुत से प्रश्न हमारे सामने खड़े हैं, जिनका उत्तर मिलना हमारे लिए काफी जरूरी है।" बता दें कि, मार्च में आईओसी और जापानी सरकार ने जुलाई में शुरू होने वाले ओलंपिक खेलों को कोरोनावायरस के बढ़ते प्रकोप के चलते एक साल तक स्थगित कर दिया था। चीन से शुरू हुए कोरोनावायरस के चलते दुनिया भर में 50 लाख से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं और इसके चलते तीन लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।

Next Story
Share it