Top
Action India

कांग्रेस व एआईयूडीएफ की मित्रता पोटैशियम साइनाइड खाने के समान- प्रशांत फूकन

कांग्रेस व एआईयूडीएफ की मित्रता पोटैशियम साइनाइड खाने के समान- प्रशांत फूकन
X

गुवाहाटी। एएनएन (Action News Network)

राज्य में होने जा रहे राज्यसभा चुनाव के मद्देनजर कांग्रेस और ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (एआईयूडीएफ) के बीच गठबंधन हो गया है। दोनों ही पार्टियां एक-दूसरे की धुर विरोधी रही हैं। बावजूद भाजपा को रोकने के लिए दोनों ने हाथ मिला लिया है। दोनों पार्टियों ने संयुक्त रूप से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में वरिष्ठ पत्रकार अजीत भुइंया को अपना समर्थन दिया है। इसको लेकर सत्ताधारी पार्टी भाजपा के नेता दोनों पार्टियों के गठबंधन पर तलख टिप्पणी कर रहे हैं।

भाजपा के वरिष्ठ नेता व डिब्रूगढ़ के विधायक प्रशांत फूकन ने बुधवार को विधानसभा के बाहर मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि कांग्रेस और एआईयूडीएफ के बीच पहले से ही मित्रता थी। यह आज प्रमाणित हो गया है। हालांकि उन्होंने कहा कि यह मित्रता पोटैशियम साइनाइड खाने के समान साबित होगा। उन्होंने कहा कि दोनों पार्टियां जनता को भुलावे में रखने के लिए यह कहती रही हैं कि उनके बीच कोई गठबंधन नहीं है। लेकिन राज्यसभा चुनाव में यह साबित हो गया कि दोनों के बीच गठबंधन आज से नहीं काफी पहले से ही है।

उन्होंने कहा कि दोनों पार्टियों की मित्रता को राज्य की जनता किस तरह से स्वीकार करेगी, यह आगामी 2021 के विधानसभा चुनावों में पता चलेगा। उन्होंने कहा कि इस गठबंधन से निचले असम में एआईयूडीएफ को और ऊपरी असम में कांग्रेस को भारी नुकसान होने वाला है।

उन्होंने कहा कि यह मित्रतात कांग्रेस और एआईयूडीएफ के लिए पोटैशियम साइनाइड खाने के समान साबित होगा। कारण निचले असम में एआईयूडीएफ को जो लाभ मिला था वह कांग्रेस के साथ मित्रता करने के काफी वोटों का नुकसान होगा। ठीक यही स्थित ऊपरी असम में कांग्रेस के साथ होने वाली है।

उन्होंने कहा कि शेर और बकरी के बीच मित्रता के चलते आगामी चुनाव में भाजपा को काफी लाभ होने वाला है। उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी तीसरी सीट के लिए कोई उम्मीदवार खड़ा नहीं करेगी। हालांकि भाजपा तीसरी सीट को लेकर क्या रणनीति बना रही है, इसका खुलासा नामांकन के अंतिम समय में ही पता चल पाएगा।

Next Story
Share it