Top
Action India

कोरोना मामले मिलने के बाद दो क्षेत्रों को बनाया गया कंटेनमेंट जोन

शिमला । एएनएन (Action News Network)

मंडी जिला में तीन कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आने के बाद मरीजों के घर वार्ड व आसपास के क्षेत्र को कंटेनमेंट व बफर जोन घोषित किया गया है। ये मामले जिला के धर्मपुर व जोगिन्दरनगर उपमंडलों से सम्बन्धित हैं। मंडी के उपायुक्त ऋग्वेद ठाकुर ने शुक्रवार को कहा कि अगले आदेशों तक कंटेनमेंट जोन में किसी भी प्रकार का आवागमन नहीं होगा। लोगों के बाहर निकलने पर पूर्ण रोक रहेगी। उन्हें जरूरी सामान की आपूर्ति होम डिलीवरी सेवा से होगी। जबकि साथ लगते क्षेत्र जिन्हें बफर जोन बनाया गया है वहां रोजमर्रा की गतिविधियां शर्तो के साथ जारी रहेंगी।

उपायुक्त ने कहा कि रिपोर्ट आने के बाद सरकार के मानक संचालन प्रक्रिया स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर के अनुरूप उपमंडल धर्मपुर की ग्राम पंचायत सकलाना के वार्ड नंबर 3 को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। इसके अलावा सकलाना पंचायत के वार्ड 1, 2, वार्ड 4 (गांव भदारना) व वार्ड 5 (गांव गैहरा) और ग्राम पंचायत समौड़ के वार्ड नंबर 1 (गांव समौर) को बफर जोन बनाया गया है। ऋग्वेद ठाकुर ने बताया कि ग्राम पंचायत दतवाड़ के वार्ड 2 (गांव दिओड़ी जिसे लसराना-2 के नाम से भी जाना जाता है) को कंटेनमैंट जोन घोषित किया गया है।

जबकि ग्राम पंचायत दतवाड़ के वार्ड 1 (गांव लसराना-1), ग्राम पंचायत संधोल के वार्ड 5 (गांव मोखडू) ग्राम पंचायत सौहड़ के वार्ड नंबर 3 (गांव सोहड़) और ग्राम पंचायत घनाला के वार्ड 5 (गांव नैनगल) को बफर जोन घोषित किया गया है। उन्होंने कहा कि उपमंडल जोगिन्दरनगर में नगर परिषद जोगिन्दरनगर के वार्ड नंबर 7 (गांव शानन ), ग्राम पंचायत हरगुनैन के वार्ड नंबर 5 (गावं अवैड-3 नेशनल हाईवे तक), वार्ड नंबर 6 (गांव हरगुनैण-1) और वार्ड नंबर 7 (गांव हरगुनैन-2) को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है।

Next Story
Share it