Top
Action India

सराहां : कोरोना अस्पताल पर सरकार से पुर्नविचार की मांग, विधायक ने दिया आश्वासन

नाहन। एएनएन (Action News Network)

पच्छाद उपमंडल के तहत सराहां अस्पताल को कोरोना सेकेंडरी केयर अस्पताल में तबदील कर दिया गया है। लिहाजा क्षेत्रवासियों ने सरकार से इस फैसले पर पुर्नविचार करने की मांग की है, क्योंकि यह अस्पताल बाजार के बीचोंबीच स्थित है। वहीं पच्छाद की विधायिका रीना कश्यप ने लोगों को आश्वासन दिया है कि सरकार से यह मामला उठाया जाएगा।

सराहां पंचायत के प्रधान नरेंद्र कुमार ने कहा कि क्षेत्रवासी मुश्किल की इस घड़ी में सरकार के साथ है, लेकिन सराहां अस्पताल में खोले गए कोरोना सेकेंडरी केयर अस्पताल को थोड़ी दूर शिफ्ट किया जाए, क्योंकि सराहां अस्पताल बाजार व रिहायशी इलाकों के बीचोंबीच स्थित है। इससे संक्रमण का खतरा बढ़ेगा। साथ ही सराहां 30 पंचायतों का केंद्र बिंदु है। ऐसे में लोगों को भी असुविधा का सामना करना पड़ेगा। उनकी मांग है कि सरकार अपने फैसले पर पुर्नविचार करें।

वहीं अन्य पंचायतों प्रधानों का भी यही मानना है। बाग पशोग पंचायत के प्रधान प्रकाश भाटिया ने भी मुख्यमंत्री से मांग की है कि सराहां अस्पताल को कोरोना सेकेंडरी केयर अस्पताल में तबदील करने के फैसले पर पुर्नविचार किया जाए और इससे आबादी के क्षेत्र से बाहर कहीं ओर शिफ्ट किया जाए।उधर क्षेत्रवासियों की मांग पर पच्छाद की विधायिका रीना कश्यप ने सरकार से मामला उठाने की बात कहीं है। रीना कश्यप ने सराहां की जनता को आश्वासन देते हुए कहा कि सरकार उनके साथ है और लोग संयम बनाए रखे।

उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा जो सराहां अस्पताल को कोरोना सेकेंडरी केयर अस्पताल में तबदील करने का निर्णय लिया गया है, का मामला मुख्यमंत्री के समक्ष उठाया जाएगा। इस बारे फोन पर भी चर्चा हुई है और 14 अप्रैल को व्यक्तिगत तौर पर भी उनसे मिलकर मामले का समाधान निकाला जाएगा।

Next Story
Share it