Top
Action India

कोरोना संक्रमित दो मरीज हमीरपुर के चैरिटेबल अस्पताल भोटा में भर्ती

शिमला। एएनएन (Action News Network)

कोरोना संक्रमित दो मरीजों को हमीरपुर के भोटा स्थित चैरिटेबल अस्पताल भोटा में भर्ती किया गया है। दोनों मरीजों का उपचार शुरू हो गया है। हमीरपुर के उपायुक्त हरिकेश मीणा ने रविवार को बताया कि ऊना जिला से दो कोरोना संक्रमित व्यक्तियों को इस अस्पताल में आइसोलेट किया गया है। इनकी देखभाल के लिए चिकित्सक व सहायक स्टाफ में 18 कर्मियों की तैनाती की गई है।

उन्होंने कहा कि यहां पर कोरोना संक्रमित मरीजों के उपचार में अपनाए जाने वाले सभी प्रोटोकॉल का पूरा ध्यान रखा जा रहा है। चिकित्सकों एवं स्वास्थ्य कर्मियों को इस तरह के मामलों में देखभाल का समुचित प्रशिक्षण प्रदान किया गया है। उन्हें पीपीई सहित सभी सुरक्षा उपकरण उपलब्ध करवाए गए हैं। दिन में तीन बार इसे सेनिटाइज करने का प्रावधान किया गया है।
उपायुक्त ने बताया कि अस्पताल परिसर में सुरक्षा के भी व्यापक प्रबंध किए गए हैं और पर्याप्त संख्या में सुरक्षा कर्मी एवं सीसीटीवी कैमरा लगाए गए हैं।

संबंधित उपमंडलाधिकारी (ना.) को सीसीटीवी कैमरे सहित अन्य सुरक्षा उपाय और सुदृढ़ करने के निर्देश दिए गए हैं। यहां तैनात स्टाफ के ठहरने के लिए भोटा स्थित हिल साईड होटल का अधिग्रहण किया गया है।उल्लेखनीय है कि राधास्वामी चैरिटेबल अस्पताल भोटा को प्रदेश सरकार की ओर से गत सात अप्रैल को सेकंडरी आइसोलेशन सुविधा स्थल के रूप में अधिसूचित किया गया है।

इसमें स्पर्शोन्मुख (असिम्पटोमैटिक) एवं हल्के लक्षणों (सिम्पटोमैटिक) वाले कोरोना संक्रमित लोगों को पृथक (आइसोलेट) रखने की सुविधा प्रदान की गई है और लक्षण बढ़ने पर इन्हें टांडा मेडिकल कॉलेज जैसे टर्शरी (तृतयिक) सुविधा स्थलों में भेजा जा सकता है। प्रदेश सरकार ने कांगड़ा, सिरमौर, सोलन सहित अन्य जिलों में भी इस तरह की व्यवस्था की है और ऊना तथा हमीरपुर जिला के लिए आरसीएच भोटा को पृथक सुविधा स्थल बनाया गया है।

Next Story
Share it