Top
Action India

क्वारेंटाइन को यादगार बनाने के लिए लगाया गया पौधा

क्वारेंटाइन को यादगार बनाने के लिए लगाया गया पौधा
X

खगड़िया। एएनएन (Action News Network)

क्वॉरेंटाइन सेंटर जाने के डर से देश के विभिन्न इलाकों में छिपे तबलीगी जमात के लोगों को ढूंढने में जहां प्रशासन के लोग लगे हुए हैं वही क्वॉरेंटाइन सेंटर में रह कर संक्रमण की आशंका को दूर करने वाले प्रवासी मजदूरों ने क्वॉरेंटाइन की जरूरत को लेकर जागरूकता पैदा करने के लिए अपनी विदाई के समय पौधे लगाकर एक नायाब पहल की है। खगड़िया जिले के बेलदौर प्रखंड में मध्य विद्यालय तेलिहार में रखे गए 15 प्रवासी मजदूरों में से कई लोगों ने अपना क्वॉरेंटाइन का समय पूरा कर लिया जिन्हें शुक्रवार को केंद्र से छुट्टी दे दी गई।

क्वॉरेंटाइन केंद्र से जाते समय श्रवण चौधरी , संपू चौधरी और अन्य व्यक्ति ने विद्यालय परिसर में पौधे लगाकर क्वॉरेंटाइन के महत्व को हमेशा के लिए यादगार बना दिया। इनलोगों का कहना था कि येे पौधे जब बड़े होकर पेड़ बनेंगे तो इन्हें देखकर बच्चों और ग्रामीणों में किसी भी महामारी या आपदा की स्थिति में सरकार के द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन क्यों जरूरी है, इसके महत्व को समझा जा सकेगा। उल्लेखनीय है कि खगड़िया जिले में 3588 लोगों को अपनी पंचायतों में ही बनाए गए क्वॉरेंटाइन सेंटर में रखा गया है, जिसमें तेलिहार पंचायत के अंतर्गत 2 केंद्र बनाए गए हैं।

मध्य विद्यालय रामनगर में 6 तथा मध्य विद्यालय तेलिहार में 15 लोगों के साथ बेलदौर प्रखंड में 599 लोगों को क्वॉरेंटाइन सेंटर पर रखा गया है। जिला प्रशासन ने सभी लोगों के भोजन, आवास और अन्य सुविधाओं का प्रबंध किया है। प्रवासी मजदूरों की नायाब पहल पर पंचायत के मुखिया व अन्य जनप्रतिनिधियों और प्रशासनिक अधिकारियों ने प्रसन्नता व्यक्त की है और इसे जिले के लिए अनुकरणीय बताया है। बेलदौर के प्रखंड विकास पदाधिकारी ने क्वॉरेंटाइन अवधि पूरा करने वाले प्रवासी मजदूरों को स्वस्थ रहने की शुभकामनाएं दी है।

Next Story
Share it