Top
Action India

तेलंगाना से लौटते समय मृत बच्ची का कोरोना रिपोर्ट आया निगेटिव

तेलंगाना से लौटते समय मृत बच्ची का कोरोना रिपोर्ट आया निगेटिव
X

  • मृतक बच्ची जमलो का तीन द‍िन बाद हुआ पोस्टमार्टम

बीजापुर । एएनएन (Action News Network)

जिले के ग्राम आदेड़ 12 वर्ष की जमलो मडकामी की तेलांगाना से वापस लौटने के बाद उसी दि‍न 18 अप्रैल को मौत हो गई थी। उसके शव को बीजापुर ज‍िला च‍िक‍ित्‍सालय में रखा गया था और उसका सैंपल कोरोना जांच के ल‍िए जगदलपुर भेजा गया था। सोमवार को जांच र‍िपोर्ट न‍िगेट‍िव आने के बाद शव का पोस्‍टमार्टम करवाकर पर‍िजनों को सौंप द‍िया गया।

उल्‍लेखनीय है क‍ि अपने ही गांव के कुछ लोगों के साथ रोजगार की तलाश में 2 महीने पहले मिर्ची तोड़ने तेलंगाना के पेरूर गांव गई हुई थी। लॉकडाउन 2 लगने के बाद 16 अप्रैल को तेलंगाना से वापस मासूम बच्ची अपने साथियों के साथ बीजापुर के लिए पैदल ही रवाना हुई। करीब 100 किमी का जंगली सफर पैदल तय कर 12 प्रवासी मजदूरों का दल 18 अप्रैल को बीजापुर के मोदकपाल तक किसी तरह पहुंच ही पाया था। इसी दौरान डिहाइड्रेशन का शिकार होकर बच्ची जमलो की मौत हो गई। प्रशासन ने बच्ची के शव के साथ तेलंगाना से आ रहे मजदूरों को भी क्वरंटाइंन कर दिया।

इसकी खबर लगते ही बच्ची के पिता आंदोराम मड़कम औरमां सुकमती मड़कम जिला चि‍कित्सालय बीजापुर पहुंचे। मौत के तीन दिनों बाद आज बच्ची के शव का पोस्टमार्टम बीजापुर में हुआ, जिसके बाद जमलो के शव को उसके माता-पिता को सौंपा दिया गया। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी बीजापुर डॉ. बीआर पुजारी ने बताया कि तेलंगाना से पैदल लौट रहे मजदूरों के दस्ते में से एक बच्ची के मौत की खबर लगते ही स्वास्थ्य विभाग की टीम बच्ची के शव को बीजापुर लाने के साथ ही उनके साथ पैदल सफर कर रहे सभी मजदूरों को क्वरंटाइन कर लिया गया। एहतियात के तौर पर शव का कोरोना टेस्ट के लिए सैंपल भी भेजा गया था, जिसका रिपोर्ट निगेटिव आई है। डॉ. ने संभावना व्यक्त करते हुए बताया कि गर्मी की वजह से शरीर में पानी की कमी होने से बच्ची की मौत हुई होगी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही बच्ची के मौत की वजह स्पष्ट हो पाएगा।

Next Story
Share it