Top
Action India

कोरोना वायरस से चीन में अब तक 106 लोगों की मौत, भारत में 33 हजार विमान यात्रियों की जांच

कोरोना वायरस से चीन में अब तक 106 लोगों की मौत, भारत में 33 हजार विमान यात्रियों की जांच
X

बीजिंग/नई दिल्ली। एएनएन (Action News Network)

चीन के वुहान शहर में कोरोना वायरस का कहर जारी है। चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने कहा है कि इस वायरस की चपेट में आकर मरने वालों की संख्या 106 हो गई है, जबकि 2,744 लोगों में अब तक इस वायरस की पुष्टि हुई है। इनमें से 461 लोगों की स्थिति बेहद नाजुक है। आयोग के अनुसार पिछले 24 घंटे में 24 लोगों की मौत हुई है, इनमें नौ माह की एक बच्ची भी है। 1300 नए मामले सामने आए हैं और कुल 4,359 लोगों की जांच संदिग्ध मानकर की जा रही है। चीन ने वुहान समेत कुल 12 शहरों को वायरस के खौफ की वजह से सील कर दिया है। भारत में बाहर से आए 33 हजार से ज्यादा विमान यात्रियों की जांच की गई है।

उधर, सोमवार को दक्षिणी मुंबई के रहने वाले एक 36 वर्षीय व्यक्ति को कोरोना वायरस का संदिग्ध रोगी मानकर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। चीन से लौटी बिहार के छपरा की एक लड़की का संदिग्ध रोगी मानकर पटना मेडिकल कॉलेज में इलाज चल रहा है। उसमें कोरोना वायरस जैसे लक्षण मिले हैं। राजस्थान की राजधानी जयपुर में एक संदिग्ध रोगी मिला है। उसका इलाज एसएमएस अस्पताल में चल रहा है। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा ने बताया कि युवक चीन से एमबीबीएस की पढ़ाई कर लौटा है। इसके अलावा राज्य के चार जिलों में 18 लोगों की अगले 28 दिनों तक निगरानी की जा रही है जो हाल ही चीन से राजस्थान लौटे हैं।

भारत के केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि अब तक 155 फ्लाइट से आने वाले 33,552 यात्रियों की जांच हो चुकी है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कहा कि कोरोना वायरस को पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी घोषित करना जल्दबाजी होगी। इस बीच केंद्र सरकार ने चीन के वुहान शहर में फंसे भारतीय नागरिकों को वापस लाने का फैसला किया है। यहां फंसे लोगों की संख्या करीब 250 है। इनमें अधिकतर छात्र हैं। भारत सरकार ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए तैयारियों की समीक्षा की है। ऐसे संकेत मिले हैं कि भारत सरकार का जहाज रानी मंत्रालय अंतरराष्ट्रीय बंदरगाहों पर चीन से आने वाले लोगों की स्क्रीनिंग शुरू कर सकता है जिससे देश के भीतर इस वायरस को फैलने से रोका जा सके। इसी तरह चीन से आने वाले लोगों की स्क्रीनिंग के साथ नेपाल सीमा पर भी स्क्रीनिंग की व्यवस्था शुरू होगी।

महाराष्ट्र में मुंबई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर 26 जनवरी तक 3756 यात्रियों ने स्क्रीनिंग की जा चुकी है। अब तक कोरोना वायरस के चार संदिग्ध मरीजों को मुंबई के कस्तूरबा अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुणे के नायडू अस्पताल में दो मरीजों को भर्ती किया गया है। चीन से केरल लौटे 436 लोग निगरानी में है। पांच लोग अभी भी अस्पतालों के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती हैं। सभी रोगियों के खून का नमूनों को पुणे स्थित नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी भेजा गया था। इनकी रिपोर्ट निगेटिव है। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री केके शायलजा का कहना है कि जिला स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ मिलकर सभी तरह के कदम उठाए गए हैं।

Next Story
Share it